Police

अब 60 जिलों में उत्तर प्रदेश पुलिस को मिलेगा सस्ता इलाज

यूपी पुलिस
फाइल फोटो

लखनऊ। केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही स्वास्थय योजना (CGHS) के तहत मंजूर दरों पर अब उत्तर प्रदेश के पुलिस कर्मियों और उनके आश्रित परिवारजनों को जल्द ही प्रदेश के 60 जिलों में सस्ते इलाज की सुविधा मिल सकेगी।





पुलिस मुख्यालय ने पायलट योजना के तहत पहले 15 जिलों में केंद्र सरकार  द्वारा चलायी जा रही स्वास्थय योजना (सीजीएचएस) की दरों पर इलाज के लिए निजी अस्पतालों और डायग्नोस्टिक केन्द्रों में इलाज के लिए समझौता पत्र (एमओयू) कराया था। इन 15 जिलों में राजधानी लखनऊ, बरेली, अलीगढ़, वाराणसी, कानपुर नगर, गोरखपुर, सहारनपुर, महाराजगंज, मेरठ, गाजियाबाद, गोतमबुद्धनगर, प्रयागराज, मुजफ्फनगर, आगरा व मुरादाबाद आदि जिलें शामिल हैं।

डीजीपी ओपी सिंह की पहल पर यह सुविधा अब प्रदेश के 60 जिलों में देने की तैयारी चल रही है।  इन जिलों के पुलिस अधीक्षकों ने पुलिस मुख्यालय की तरफ से निजी अस्पतालों व जांच केन्द्रों के साथ समझौता पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया है। जिसके तहत इलाज काफी सस्ता हो गया। ज्यादातर मामलों में 30 से 40 फीसदी खर्च में ही इलाज हो जाता है और पुलिसकर्मी निजी अस्पतालों में अपने और अपने आश्रित परिवारजनों का इलाज करा लेते है। पुलिसकर्मी हेल्थ कार्ड के जरिए इस सुविधा का लाभ उठाते हैं। लखनऊ के केजीएमयू और पीजीआई में तो कैशलेस इलाज की सुविधा है लेकिन अन्य सरकारी या निजी अस्पतालों में इलाज कराने के बाद शासन से चिकित्सा प्रतिपूर्ती मिलती है।

Comments

Most Popular

To Top