North East

मणिपुर के 68 उग्रवादियों ने हथियार डाले

इम्फाल। पूर्वोत्तर के अशांत क्षेत्र से एक अच्छी खबर आई है। मणिपुर के 68 उग्रवादियों ने 15 अगस्त को इम्फाल में हुए एक समारोह में हथियार डाल दिए। इनमें चार महिलाएं भी हैं। हाल के वर्षों में यह उग्रवादियों का सबसे बड़ा समर्पण है। मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने उग्रवादियों के इस कदम की सराहना करते हुए कहा है कि इससे इस क्षेत्र में शांति और समृद्धि का मार्ग प्रशस्त होगा। उन्होंने कहा कि हिंसा से किसी भी समस्या का समाधान संभव नहीं है।





बीरेन सिंह ने कहा कि उग्रवादियों के समर्पण की पिछली नीति विफल हुई थी। उसमें बदलाव की जरूरत है। अब एक नई नीति तैयार की गई है, जिसे केंद्रीय गृह मंत्रालय के पास भेजा गया है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने समर्पण किया है, सरकार उनके जीवन की रक्षा करने का वादा करती है।

मणिपुर के पुलिस महानिदेशक एलएम खौते ने बताया कि समर्पण करने वालों में चार महिलाओं सहित 23 लोग प्रतिबंधित कांग्लेपाक कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्य हैं, 17 लोग युनाइटेड नेशनल लिबरेशन फ्रंट के हैं, 10 प्रेपाक के, सात प्रेपाक (प्रो), सात रिवॉल्यूशनरी पीपुल्स फ्रंट के और चार कांग्लेपाक यावोल कांबा लुप (KYKL) ग्रुप के हैं।

Comments

Most Popular

To Top