CRPF

शहीद होने से महज 38 मिनट पहले जवान मोजाहिद खान ने मां से की थी बात..

शहीद जवान मुजाहिद खान

भोजपुर। श्रीनगर के सीआरपीएफ शिविर पर सोमवार को हुए हमले में आतंकियों से लड़ते हुए बिहार के भोजपुर के जवान मोजाहिद खान शहीद हो गए। शहादत से 38 मिनट पहले उन्होंने अपनी मां से बात की थी। मां को मालूम नहीं था कि वह अपने लाल से आखिरी गुफ्तगू कर रही है।





जवान मोजाहिद खान ने अपनी ड्यूटी वाली फोटो व्हाट्सएप पर भी भेजी। मोजाहिद ने सुबह 9:52 मिनट पर अपनी मां हसीबा खातून को फोन किया था। इसके महज 38 मिनट बाद सुबह 10:30 मिनट गोली लगने की खबर मिली तो परिवार वालों को यकीन ही नहीं हुआ। मोजाहिद एक रिश्तेदार के घर शादी समारोह में अगले माह आने वाले थे, लेकिन अब उनके घर की दीवारों पर लटकी उनकी तस्वीर और सिर्फ उनकी यादें ही बचीं हैं।

भोजपुर के पीरो ग्राम निवासी राजमिस्त्री अब्दुल खैर खान के पांच पुत्रों में मोजाहिद सबसे छोटे थे। 24 वर्षीय मोजाहिद अविवाहित थे। घरवालों ने उनकी भी शादी की बात करनी शुरू कर दी थी। उनकी शहादत की खबर सुनने के बाद उनके घर गांव वालों का तांता लग गया।

शहीद के परिवार वालों से मिली जानकारी के अनुसार कर्ण नगर स्थित सीआरपीएफ कैंप पर मोजाहिद अपनी ड्यूटी पर तैनात थे तभी एकाएक आतंकियों ने हमला बोल दिया। उन्होंने जवाबी कार्रवाई करते हुए हमले को नाकाम कर आतंकियों को बगल के घर में छिपने को मजबूर कर दिया। आतंकियों और सैन्यकर्मियों के बीच लगातार हो रही फायरिंग में मोजाहिद गंभीर रूप से जख्मी हो गए। गंभीर हालत में अस्पताल ले जाते समय उन्होंने शहादत को गले लगा लिया।

Comments

Most Popular

To Top