ICG

Special Report: भारतीय तटरक्षक बल को मिला नया पोत

भारतीय तटरक्षक बल को सौंपा गया पोत

नई दिल्ली। भारतीय तटरक्षक बल (ICG) को देश में प्राइवेट सेक्टर द्वारा निर्मित एक और पोत गुरुवार को सौंपा गया जो बीच समुद्र में किसी दूसरे पोत की जांच, टोही और राहत व बचाव कार्य में मदद कर सकता है।





यह पोत प्राइवेट सेक्टर की लार्सन एंड टूब्रो द्वारा बनाया गया है। एल एंड टी को ऐसे 54 पोत बनाने के आर्डर दिये गए थे जिनमें से यह 49 वां पोत है। इस पोत को कमीशन करने का समारोह कोविड प्रोटोकाल के अनुरुप किया गया।

यह पोत भारत की समुद्री और समुद्र तटीय सुरक्षा को मजबूत करेगा। इस पोत की विस्थापन क्षमता 105 टन है और यह 28 मीटर लम्बा है। बीच समुद्र में यह पोत काफी तेज गति 45 नाट प्रतिघंटा की गति से विचरण कर सकता है। ये पोत तमिल नाडू, पुडुचेरी और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों की चौकसी करेंगे। समुद्र में संकट में फंसे पोतों और नौकाओं को ये पोत मदद फहुंचाने का भी काम करेंगे।

इन पोतों और अडवांस्ड दिशानिर्देश और संचार उपकरण लगे हैं। यह पोत बहुत कम वक्त में आपात सूचना मिलने पर घटनास्थल पर राहत के लिये पहुंच सकता है। इस पोत की कमान असिस्टेंट कमांडेंट आशिष शर्मा को सोंपी गई है। यह पोत विशाखापतनम कोस्ट गार्ड मुख्यालय के तहत कृष्णपटनम में स्थित होगा।

Comments

Most Popular

To Top