Forces

इंडियन कोस्ट गार्ड को मिला अत्याधुनिक ‘शौर्य’ का पराक्रम

इंडियन कोस्ट गार्ड को मिला शौर्य

नई दिल्ली। इंडियन कोस्ट गार्ड को अत्याधुनिक शौर्य पोत की बड़ी ताकत मिल गई है। लाइट वेटेड हेलिकॉप्टर, 5 हाई स्पीड बोट के साथ-साथ 300 MM की सीआरएन 91 नेवल गन से तैयार इस पोत के जरिए तटरक्षक बल की समुद्री चौकसी की ताकत में बढ़ोत्तरी होना तय है। कोस्ट गार्ड की ताकत में हुए इस बढ़ोत्तरी में सबसे अहम बात यह है कि शौर्य पूरी तरह स्वदेशी पोत है।





पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने पिछले दिनों गोवा में शौर्य की तटरक्षक बल में कमीशनिंग की। 105 मीटर के 6 गश्ती पोतों की श्रृंखला में 5वें भारतीय तटरक्षक पोत शौर्य की कमीशनिंग के मौके पर तटरक्षक बल के महानिदेशक राजेंद्र सिंह भी वहां मौजूद थे। पूरी तरह से स्वदेशी डिजाइन के इस पोत को गोवा शिपयार्ड लिमिटेड ने निर्माण किया गया है।

अत्याधुनिक सेंसरों से तैयार इस पोत के माध्यम से समुद्री सीमा की सुरक्षा चौकस करने के साथ-साथ समुद्र सीमा में तेल बिखराव को नियंत्रित करने में सक्षम है। चेन्नई पोर्ट की समुद्री सीमा पर शौर्य पोत को तैनात किया जाएगा। 9,100 किलोवाट डीजल इंजन की डबल इंजन क्षमता वाला शौर्य 2,350 टन का वजन खींच सकता है। भारतीय तटरक्षक बल के बेड़े में फिलहाल 129 पोत और नौकाएं हैं।

Comments

Most Popular

To Top