CRPF

बीजापुर: CRPF जवानों ने गर्भवती महिला की मदद, 6 किमी पैदल चलकर पहुंचाया अस्पताल

सीआरपीएफ ने की गर्भवती की मदद
फोटो सौजन्य- गूगल

बीजापुर। छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित जिले बीजापुर में तैनात केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के जवानों ने प्रसव पीड़ा से कराहती आदिवासी महिला की मदद कर एक शानदार उदाहरण पेश किया। जवानों ने प्रसव पीड़ा से कराहती इस महिला को चरवाई में बिठाकर 06 किलो मीटर पैदल सफर करते हुए अस्पताल पहुंचाया।





मीडिया खबरों के मुताबिक सड़क न होने की वजह से कोई वाहन भी गांव तक नहीं आ सकता था। इन हालात के के बीच बल के जवानों ने साहस व कर्तव्यनिष्ठा का परिचय दिया।

सीआरपीएफ के अधिकारियों ने बताया कि अर्धसैनिक बल की 85वीं बटालियन का दल जिले के पदेड़ा गांव के करीब नक्सल विरोधी अभियान में था। अभियान के दौरान जब एक स्कूली छात्र ने जब गर्भवती महिला के संबंध में जानकारी दी तब कंपनी कमांडर गांव में महिला के मकान में पहुंचे। कमांडर के साथ प्रथामिक उपचार करने वाला दल भी था। बाद में जांच के दौरान प्रसव पीड़ा से कराहती महिला को अस्पताल ले जाने की कोशिश शुरू हुई।

अधिकारियों ने बताया कि पदेड़ा गांव घने जंगल और पहाड़ पर स्थित है। ऐसे में वहां एम्बुलेंस का पहुंचना मुश्किल था। महिला को चारपाई पर बिठाकर बगैर देरी किए वाहन चलने योग्य रास्ते में एम्बुलेंस की व्यवस्था के सहारे अस्पताल पहुंचाया।

Comments

Most Popular

To Top