BSF

घुसपैठ का अंदेशा, BSF ने सीमा पर बढ़ाई चौकसी

सीमा पर बीएसएफ

नई दिल्ली। सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने ऐसे 50 स्थान चिह्नित किए हैं जहां से रोहिंग्या शरणार्थी अवैध तरीके से भारत में घुसपैठ कर सकते हैं। BSF ने इन तमाम जगहों पर चौकसी बढ़ा दी है ताकि घुसपैठ रोकी जा सके। अवैध घुसपैठ की आशंका को देखते हुए असम में पहले से हाई अलर्ट है। पश्चिम बंगाल में भी चौकसी बढ़ा दी गई है।





मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक बांग्लादेश से लगती सीमा पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। एक वेबसाइट ने BSF महानिरीक्षक (दक्षिण बंगाल) पीएसआर अंजनेयुलु के हवाले से खबर दी है कि पश्चिम बंगाल से लगती भारत-बांग्लादेश सीमा पर पहले ऐसे 22 स्थान थे जहां से घुसपैठ का अंदेशा था लेकिन अब ऐसे स्थानों की संख्या बढ़कर 50 हो गई है। ये 50 जगह ऐसी हैं जहां से सिर्फ रोहिंग्या ही नहीं बांग्लादेशी भी अवैध रूप से घुसपैठ कर सकते हैं। पेत्रापोल, जयंतीपुर, हरिदासपुर, गोपालपारा और तेतुलबेराई वे इलाके हैं जहां BSF ने चौकसी बढ़ा दी है।

BSF के अधिकारियों के मुताबिक हाल के वर्षों में ऐसे 175 रोहिंग्या को पकड़ा गया है जो अवैध तरीके से भारत में घुसने का प्रयास कर रहे थे। इसी वर्ष सात रोहिंग्या सुरक्षा बलों की पकड़ में आए हैं। कुछ ही दिन पहले असम-त्रिपुरा की सीमा पर करीमगंज से भी 6 संदिग्ध रोहिंग्या को पकड़ा गया था। घुसैपठ कराने के लिए भारतीय दलाल भी इन दिनों सक्रिय हैं। ऐसे ही तीन दलालों को पिछले दिनों त्रिपुरा के सोनापुर से गिरफ्तार किया गया था।

Comments

Most Popular

To Top