Others

कश्मीर में इस पर दिखा ‘बुलंद’ तिरंगा

भारतीय राष्ट्रीय ध्वज

श्रीनगर। कश्मीर घाटी में इस साल स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बख्शी स्टेडियम में अलग तरह का बदलाव देखने को मिला। पिछले साल बख्शी स्टेडियम हो या पूरा कश्मीर कहीं भी इस मौके पर आम जन शामिल नहीं हुए, स्कूली छात्र भी स्कूल नहीं पहुंचे, हर तरफ सिर्फ सुरक्षाबल ही दिख रहे थे। लेकिन इस बार ऐसा घाटी कुछ बदली बदली सी थी।





स्टेडिमय में जो भी लोग बैठे थे वो इत्मिनान के साथ बैठे थे। परेड देखने नहीं बल्कि आजादी की सांस लेते हुए आजादी का जश्न मनाने और बंदूक व बमों के धमाकों के साथ आजादी के नारों से आजादी मिलने की उम्मीद के साथ।

वीआईपी दर्शक दीर्घा पूरी तरह से भरी हुई थी। सीएम महबूबा मुफ्ती और उनमें मंत्रिमंडल के सदस्य ही नहीं पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला अपने साथियों संग मौजूद थे। प्रदेश कांग्रेस प्रमुख जीए मीर भी स्वतंत्रता दिवस समारोह में शामिल हुए।

सरकरी मुलाजिम भी अपने परिजनों के साथ पहुंचे थे। मैदान में पुलिस, सीआरपीएफ, सेना के जवानों की टुकड़ियों के बीच उत्तर प्रदेश पुलिस का भी एक विशेष यूनिट कश्मीर में 15 अगस्त के समारोह मनाने के लिए मौजूद था। स्कूली छात्र जिनके समारोह में शामिल होने पर आतंकियों और अलगाववादियों ने बैन कर रखा था, वे अब निडर होकर समारोह का लुत्फ ले रहे थे।

पिछले साल तो यहां 14 और 15 अगस्त को सिर्फ पाकिस्तानी झंडे ही नजर आ रहे थे लेकिन इस बार यहां केवल तिरंगा ही नजर आया है। यह घाटी की फिजाओं में अमन-शांति की उम्मीद की पहली किरण है जो स्वतंत्रता दिवस पर देखने को मिला।

Comments

Most Popular

To Top