Sports

विश्व पुलिस गेम्स में भारतीय खिलाड़ियों का जलवा

लॉस एंजेल्स। अमेरिका के लॉस एंजेल्स में पिछले हफ्ते संपन्न हुए वर्ल्ड पुलिस गेम्स में भारत के खिलाड़ियों का शानदार प्रदर्शन रहा। इन गेम्स में भारत ने कुल 321 पदक हासिल किए। इन पदकों में 151 गोल्ड, 99 सिल्वर और 71 ब्रोंज मेडल हैं। भारतीय पुलिस के खिलाड़ियों की यह कामयाबी निश्चित ही बड़ी है क्योंकि पिछली बार भारत सिर्फ 156 पदक ही जीत पाया था। व्यक्तिगत पदक विजेताओं की बात की जाए तो सीआरपीएफ की रिचा मिश्रा और बीएसएफ के आनंद राव से सबसे ज्यादा 10-10 पदक अपने नाम किए।





एथलेटिक्स में मिली बड़ी सफलता

भारतीय खिलाड़ियों को सबसे ज्यादा कामयाबी एथलेटिक्स में मिली। भारतीय एथलीटों ने 61 गोल्ड और 52 सिल्वर समेत कुल 147 पदकों पर कब्जा जमाया। भुवनेश्वर की बनिता लाकड़ा ने 4×100 मीटर रिले रेस में गोल्ड के अलावा 100 मीटर की दौड़ में दूसरे स्थान पर रहकर सिल्वर मेडल जीता। 200 मीटर दौड़ में भी वे दूसरे स्थान पर रही और सिल्वर मेडल अपने नाम किया। बनिता ने 100 मीटर बाधा दौड़ में भी भाग लिया और कांस्य पदक जीतने में कामयाब रहीं। पंजाब पुलिस के मेवा सिहं ने 100 मीटर दौड़ में गोल्ड तो 200 मीटर दौड़ में सिल्वर मेडल हासिल किया। उत्तर प्रदेश के चंद्रहास सिंह ने जवेलियन थ्रो स्पर्धा में तीन स्वर्ण पदक जीते। बंगाल पुलिस के कांस्टेबल सुसेन रे ने लंबी कूद स्पर्धा में इतनी लंबी छलांग लगाई कि कोई और उसे पार नहीं कर पाया।

निशानेबाजों ने लगाया सटीक निशाना

भारतीय शूटरों ने लक्ष्य साधने में गजब की एकाग्रता दिखाई। एथलेटिक्स के बाद सर्वाधिक पदक भारतीय जवानों ने इसी स्पर्धा में जीते। निशानेबाजी में भारत के पदकों की संख्या 61 रही। इनमें 27 गोल्ड और 19 रजत भी शामिल हैं। इस प्रतियोगिता में बीएसएफ के शमशेर सिंह ने 3 स्वर्ण सहित कुल छह पदकों पर निशाना साधा। गुजरात पुलिस की लज्जा गोस्वामी भी 3 स्वर्ण सहित छह पदक जीतने में कामयाब रही।

कुश्ती में भी भारतीय पहलवानों का जलवा

कुश्ती में भारतीय पहलवानों ने 20 गोल्ड समेत कुल 24 पदक जीते। ज्यादातर भार वर्गों में भारतीय पहलवानों के सामने कोई टिक नहीं पाया। बीस स्वर्ण पदक ही भारतीय खिलाड़ियों के एकाधिकार की कहानी अपने आप कह देता है। भारतीय पहलवानों ने 3 रजत और एक कांस्य पदक पर भी हाथ साफ किया।

तैराकों ने भी दिखाया कमाल

तैराकों और गोताखोरों का भी शानदार प्रदर्शन रहा। इस स्पर्धा में भारतीय खिलाड़ियों ने 16 गोल्ड, 15 रजत और 13 कांस्य पदक जीते। सीआरपीएफ की रिचा मिश्रा और बीएसएफ के आनंद राव से सबसे ज्यादा 10-10 पदक अपने नाम किए।

तीरंदाज और मुक्केबाजों ने भी दिखाया दमखम

तीरंदाजी में भारतीय खिलाड़ियों ने 15 गोल्ड और 7 सिल्वर मेडल समेत कुल 28 पदक जीते।मुक्केबाजी स्पर्धा के नौ भार वर्गों में भारतीय मुक्केबाजों के सामने कोई ठहर ही नहीं पाया। यानी नौ में उन्होंने गोल्ड मेडल जीते। एक भार वर्ग में उसे कांस्य मिला।

पंजाब के खिलाड़ियों ने दिया दमखम

ओलंपियन निशानेबाज अवनीत सिद्धू ने राइफल स्पर्धाओं में चार पदक जीते। इनमें एक स्वर्ण और एक रजत पदक शामिल है। टेनिस में पंजाब पुलिस के सहायक महानिदेशक आशीष कपूर ने टेनिस की एकल और युगल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता।

Comments

Most Popular

To Top