Others

स्पेशल रिपोर्ट: संघर्षविराम उल्लंघन का पूरा जवाब दें- नरवाणे

सेना प्रमुख मुकुंद नरवणे
फाइल फोटो

नई दिल्ली। थलसेना प्रमुख जनरल एम एम नरवाणे ने कहा है कि  पाकिस्तान से लगी नियंत्रण रेखा पर संघर्षविराम उल्लंघन और सीमा पार से की जा रही आतंकवादी घुसपैठ को लेकर शून्य सहनशीलता बरतें।





जम्मू इलाके में थलसेना की टुकड़ियों का दौरा करने औऱ वहां सुरक्षा हालात का जायजा लेने के दौरान थलसेना प्रमुख ने अपने थलसैनिक अधिकारियों को साफ संदेश दिया कि पाकिस्तानी सेना की उकसाने वाली कार्रवाई का समुचित जवब दें। जनरल नरवाणे जम्मू इलाके में थलसेना की राइजिंग स्टार कोर के अग्रिम मोर्चों का दौरा कर रहे थे। उन्होंने  जम्मू पठानकोट इलाके में थलसेना की समाघात तैयारी की समीक्षा आला सैनिक अधिकारियों के साथ की।

पश्चिमी सैन्य कमांड के जनरल आफीसर  कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल  आर पी सिंह ने  थलसेना प्रमुख की अगवानी की। इस मौके पर राइजिंग स्टार कोर के जनरल आफीसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल उपेन्द्र दिववेदी,  कोर के टाइगर डिवीजन के जनरल आफीसर कमाडिंग मेजर जनरल  वी बी नायर  और एयर फोर्स स्टेशन जम्मू के एयर आफीसर कमाडिंग एयर कमोडोर  ए एस पठानिया मौजूद थे।

राइजिंग स्टार कोर के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल उपेन्द्र दिववेदी ने अपने इलाके में सैन्य तैयारी , सैन्य ढांचागत सुविधाओं को अपग्रेड करने,  और अंदरुनी सुरक्षा मामलों के बारे में विस्तृत जानकारी दी।  अग्रिम इलाकों के दौरे में  जनरल नरवाणे ने फील्ड फार्मेशन कमांडरों औऱ सैनिकों के साथ बातचीत की

वीडियो कांफ्रेंस के जरिये थलसेना प्रमुख ने पश्चिमी कमांड के सभी रैंकों के जवानों और अधिकारियों को सम्बोधित किया। इस दौरान जनरल नरवाणे ने  सैनिकों से कहा कि वे पाकिस्तान द्वारा बार बार संघर्षविराम का उल्लंघनों को लेकर शून्य सहनशीलता की नीति अपनाएं। सीमा पार घुसपैठ को भी रोकने के लिये  उन्होंने सख्त कदम उठाने को कहा और कहा कि दुश्मन के नापाक इरादों को परास्त करें।  उन्होंने कहा कि इसके लिये सरकार की सभी एजेंसियां मिल कर काम कर रही हैं।

जनरल नरवाणे ने गुर्ज डिवीजन के अग्रिम इलाकों का भी दौरा किया। इस दौरान डिवीजन के जीओसी मेजर जनरल  वाई पी खंदूरी ने थलसेना प्रमुख को अपने इलाके की सुरक्षा हालात की पूरी जानकारी दी।

Comments

Most Popular

To Top