Others

स्पेशल रिपोर्ट: सामरिक महत्व के 6 पुलों का उद्घाटन, रक्षा मंत्री ने BRO को दी बधाई

रक्षा मंत्री ने किया उद्घाटन
फाइल फोटो

नई दिल्ली। संवेदनशील सीमांत क्षेत्रों तक आवागमन को सुविधाजनक बनाने के लिये रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 06 पुलों का उद्घाटन किया। ये पुल वीडियो कांफ्रेंस के जरिये सेना और आम जनता के इस्तेमाल के लिये खोले गए। ये पुल जम्मू-कश्मीर से लगी अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा को जोड़ेंगे।





सामरिक महत्व के इन छह पुलों को सीमा सडक संगठन ने रिकार्ड वक्त में पूरा किया है। इन पुलों का निर्माण अत्य़धिक दुर्गम और ठंढे इलाके में किया गया है। रिकार्ड वक्त में ये पुल बनाने के लिये रक्षा मंत्री ने सीमा सडक संगठन को बधाई दी। इस मौके पर रक्षा मंत्री ने कहा कि सड़क और पुल देश की जीवन रेखा होते हैं जो देश और आम लोगों के जीवन में अहम भूमिका निभाते हैं रक्षा मंत्री ने कहा कि ऐसे वक्त जब पूरी दुनिया में लोग एक दूसरे से दूरी बना कर चल रहे हैं, इन पुलों का उद्घाटन करते हुए उन्हें सुखद अनुभूति हो रही है।

रक्षा मंत्री ने कहा कि देश के सीमांत इलाकों में सड़क और पुल का निर्माण सुदूर इलाकों को जोडने के सरकार के लक्ष्य हासिल होंगे। उन्होंने कहा कि सीमांत इलाकों में सडकों का निर्माण न केवल सामरिक ताकत प्रदान करते हैं बल्कि क्षेत्र में समृद्धि भी लाते हैं। उन्होंने कहा कि सीमांत इलाकों में ढांचागत सुविधाओं को मुहैया कराना सरकार का लक्ष्य है।

जम्मू-कश्मीर के लोगों को सहयोग के लिये धन्यवाद देते हुए रक्षा मंत्री ने कहा कि सशस्त्र सेनाओं और लोगों की जरुरतों को ध्यान में रखते हुए सरकार इस प्रांत के विकास में गहरी रुचि ले रही है। रक्षा मंत्री ने जानकारी दी कि पिछले दो सालों में सीमा सडक संगठन द्वारा 22 सौ किलोमीटर सडक की कटिंग, 42 सौ किलोमीटर सडक की सतह बनाने और 58 सौ मीटर के कुल लम्बाई के पुलों का निर्माण कार्य चल रहा है।

उन्होंने कहा कि सीमांत इलाकों में ढांचागत सुविधाओं के निर्माण के लिये सीमा सडक संगठन को समुचित धन मुहैया कराया जाएगा।

Comments

Most Popular

To Top