COURT

जस्टिस बोबडे होंगे अगले मुख्य न्यायाधीश, 18 नवंबर को लेंगे शपथ

जस्टिस शरद अरविंद बोबडे

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जस्टिस शरद अरविंद बोबडे को देश का नया मुख्य न्यायाधीश बनाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। जस्टिस बोबडे 18 नवंबर को बतौर सीजेआई शपथ लेंगे। 17 नवंबर को मौजूदा चीफ जस्टिस रंजन गोरोई रिटायर हो रहे हैं। जस्टिस बोबडे देश के 46वें चीफ जस्टिस होंगे।





मीडिया खबरों के मुताबिक बीते दिनों रंजन गोगोई ने नियमानुसार जस्टिस बोबडे को देश का अगला सीजेआई बनाने के लिए प्रस्ताव भेजा था जिसे राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा पारित कर दिया गया है।

बता दें कि बोबडे उस संविधान पीठ में शामिल हैं जो आयोध्या भूमि विवाद की सुनवाई कर रही है। उनके अलावा इस सैंवाधिक पीठ में मौजूद चीफ जस्टिस रंजन गोगोई, जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस नजीर और जस्टिस चंद्रचूड़ शामिल हैं।

जस्टिस बोबडे का जन्म 24 अप्रैल, 1956 को महाराष्ट्र के नागपुर में हुआ था। उन्होंने नागपुर विश्व विद्यालय से बीए और एलएलबी की डिग्री हासिल की। सन् 1978 में उन्होंने कॉन्सिल ऑफ महाराष्ट्र ज्वाइन कर लिया था। बॉम्बे उच्च न्यायालय की नागपुर बेंच में लॉ की प्रक्टिस करने के बाद साल 1998 में वह सीनियर वकील बन गए। जस्टिस बोबडे ने साल 2000 में एडिशनल जज के तौर पर पदभार संभाला था। इसके बाद उन्हें मध्य प्रदेश हाईकोर्ट का चीफ जस्टिस बना दिया गया। बोबडे देश के कई अहम फैसलों का हिस्सा भी रहें हैं। जिसमें दिल्ली-एनसीआर में पटाखों पर बैन और आधार कार्ड शामिल है।

Comments

Most Popular

To Top