Jails

तिहाड़ जेल के कैदियों ने बनाई भगवान कृष्ण, बुद्ध और क्रिकेटर सचिन की पेंटिंग्स

तिहाड़ के कैदियों ने बनाई पेंटिंग

नई दिल्ली। इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र में आयोजित प्रथम अंतरराष्ट्रीय कला मेले में तिहाड़ जेल के कैदियों का कलात्मक हुनर दर्शकों में काफी लोकप्रिय हो रहा है। विभिन्न अपराधों में जेल में बंद इन कैदियों ने अपनी प्रतिभा व कौशल का प्रयोग पेंटिंग और स्कल्पचर में किया है।





तिहाड़ स्कूल ऑफ आर्ट्स की इस प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए महानिदेशक (DG) अजय कश्यप ने कहा कि हम इन बंदियों की छिपी हुई कलात्मक प्रतिभा को अधिक से अधिक बाहर निकाल कर और उसे एक क्रिएटिव रूप देकर उनके मन को अपराध की दुनिया से दूर ले जाना चाहते हैं। इस पहल से मन शांत होने का रास्ता मिलता है और अपराधों में स्वतः कमी आती है।

भगवान बुद्ध

कैंदियों द्वारा बनाई गई भगवान बुद्ध की पेंटिंग

ललित कला अकादमी द्वारा आयोजित इस मेले में तिहाड़ जेल की प्रदर्शनी में हालांकि कैदियों द्वारा बनाई गई कुछ ही पेंटिंग्स और कलाकृतियां प्रदर्शित हैं। पर इससे पता चलता है कि कलात्मक अभिरुचि के इन कैदियों की चित्रकारी का कैनवास बहुत विशाल है।

नेताजी सुभाषचंद्र बोस

तिहाड़ के कैदियों द्वारा बनाई गई फोटो में नेताजी सुभाषचंद्र बोस

चित्रकारी में भगवान बुद्ध की विभिन्न मुद्राओं से लेकर नटखट कृष्ण, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, क्रिकेट खेलते सचिन और उसी चित्र में बल्ला पकड़े बालपन के सचिन, प्रकृति की विभिन्न छटाएं, शहर की गलियां तथा दिल्ली मेट्रो तक शामिल हैं।

सचिन तेंदुलकर

कैंदियों द्वारा बनाई गई सचिन तेंदुलकर की पेंटिंग

तिहाड़ जेल के नंबर 4 के सुपरिटेंडेंट राजेश चौहान बताते हैं कि इस प्रदर्शनी में जिन वस्तुओं की बिक्री होती है उसका एक निश्चित हिस्सा संबंधित कैदी को दिया जाता है। रंग, ब्रश, फ्रेमिंग व अन्य सामान तिहाड़ जेल प्रशासन उपलब्ध करवाता है। पेंटिंग और स्कल्पचर की कीमत भी प्रशासन बहुत वाजिब रखता है।

रंग, हुनर और कलात्मक अभिरुचि की कैदियों की प्रतिभा से सराबोर तिहाड़ जेल की यह प्रदर्शनी 18 फरवरी तक दोपहर बारह बजे से रात 8 बजे तक देखी जा सकती है।

Comments

Most Popular

To Top