Jails

बक्सर जेल को मिला फांसी के 10 फंदे बनाने का निर्देश, चर्चाओं का बाजार गर्म

फांसी का फंदा
फाइल फोटो

पटना। बिहार की बक्सर जेल फांसी के दौरान इस्तेमाल किए जाने वाले 10 फंदों को तैयार कर रही है। इस बाबत जेल को इस सप्ताह के अंत तक फांसी के 10 फंदे तैयार रखने का निर्देश दिया गया है। इसके बाद से ही तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। इस बात के भी कयास लगाए जा रहे हैं कि ये फंदे दिल्ली के बहुचर्चित निर्भया मामले के दोषियों के लिए हो सकते हैं।





बता दें कि बिहार की बक्सर जेल राज्य की एक मात्र जेल है जिसे फांसी का फंदा बनाने की महारत हासिल है। गौरतलब है कि संसद हमले के मामले में अफजल गुरू को मौत की सजा देने के लिए इस जेल में तैयार किए गए फांसी के फंदे का इस्तेमाल किया गया था।

बक्सर जेल के अधीक्षक विजय कुमार अरोड़ा ने बताया कि पिछले सप्ताह जेल निदेशालय से 14 दिसंबर तक 10 फांसी के फंदे तैयार करने के निर्देश मिले हैं। हमें पता नहीं है कि ये कहां इस्तेमाल होने जा रहे हैं। 2016-17 में भी हमें पटियाला जेल से भी आदेश मिले थे, हालांकि हम यह नहीं जानते कि किस उद्देश्य के लिए फंदे तैयार करवाए गए थे।

जेल अधीक्षक विजय अरोड़ा बताते हैं कि बक्सर जेल में लंबे समय से फांसी के फंदे बनाए जा रहे हैं। एक फांसी का फंदा 72 सौ कच्चे धागों से बनता है। उसे तैयार करने में 2-3 दिन लग जाते हैं जिस पर 5-6 कैदी काम करते हैं। इसकी लट तैयार करने में मोटरचालित मशीन का भी थोड़ा इस्तेमाल होता है।

 

 

Comments

Most Popular

To Top