International

यूएन: भारत का पाकिस्तान को करारा जबाब, कुरैशी को कश्मीर मुद्दा उठाना पड़ा महंगा

विदिशा मैत्रा ने यूएन में दिया कुरैशी को जवाब
फोटो सौजन्य- गूगल

संयुक्त राष्ट्र। संयुक्त राष्ट्र के 75 वर्ष पूरे होने पर आयोजित विशेष कार्यक्रम में जम्मू-कश्मीर का मुद्दा उठाना पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के लिए महंगा पड़ गया। भारत ने पाकिस्तान को आतंकवाद का गढ़ और पनाहगार बताकर उसकी बोलती बंद कर दी। भारत ने कहा- पाक एक ऐसा मुल्क है जो आतंक फैलाने वालों को प्रशिक्षण देता है और मारे जाने के बाद उन्हें शहीद का दर्जा देता है।





मीडिया खबरों के मुताबिक भारत ने यह भी कहा कि पाक में अल्पसंख्यकों पर आए दिन अत्याचार की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। संयुक्त राष्ट्र में पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के कश्मीर का मुद्दा उठाने पर भारत ने जवाब देने के अधिकार के तहत आतंकवाद का मुद्दा उठाया। भारत की प्रथम सचिव विदिशा मैत्रा ने संयुक्त राष्ट्र में कुरैशी के भाषण को भारत के आंतरिक मामले में कभी न खत्म होने वाला मनगढ़ंत सोच करार दिया।

मैत्रा ने कहा कि भारत कुरैशी के जम्मू-कश्मीर के दुर्भाग्यपूर्ण उल्लेख को खारिज करता है जो भारत का अभिन्न अंग है। भारतीय प्रतिनिधि ने कहा कि अगर संयुक्त राष्ट्र में कोई ऐसा एजेंडा जो पूरा नहीं हुआ है तो वह बढ़ते आतंकवाद से निपटना है।

उन्होंने पाक पर निशाना साधते हुए कहा कि पाक एक ऐसा मुल्क है जो पूरी दुनिया में आतंकवाद के केंद्र के रूप में बदनाम है। पाक ने खुद आतंकियों को शेल्टर और ट्रेनिंग देने तथा उन्हें शहीद का दर्जा देने को स्वीकार किया है।

Comments

Most Popular

To Top