International

स्पेशल रिपोर्ट: भारतीय उड़ानों पर रोक से पाकिस्तान को भी घाटा

एयर इंडिया का विमान
फाइल फोटो

नई दिल्ली। गत 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी शिविरों पर भारत द्वारा किये गए हवाई सर्जिकल हमले के बाद पाकिस्तान द्वारा  अपने आसमान से होकर भारतीय वैमानिकी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने से न केवल भारत बल्कि पाकिस्तान को भी भारी वित्तीय नुकसान हो रहा है।





पाकिस्तान द्वारा अपने आसमान को भारतीय उड़ानों के लिये खोले जाने के बारे में पूछे जाने पर यहां विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान ने यह फैसला एकतरफा लिया था औऱ इसका फैसला भी पाकिस्तान को ही करना है।

 गौरतलब है कि भारतीय उड़ानों को पाकिस्तान के आसमान से नहीं जाने देने से भारतीय एय़रलांस को भारी घाटा हो रहा है। भारतीय विमानों को यूरोप या अन्य महाद्वीपों तक पहुंचने के लिये दो से चार घंटे की अतिरिक्त उड़ान भरनी होती है जिससे न केवल  भारतीय विमानों को अतिरिक्त ईंधन की खपत झेलनी पड़ती है बल्कि कई उड़ानों को भी स्थगित करना पड़ा है। लेकिन यहां राजनयिक सूत्रों का कहना है कि इस वजह से पाकिस्तान को अपने आसमान के ऊपर से उड़ान नहीं भरने देने की वजह से हवाई शुल्क से होने वाली आय भी बंद हो गई है।

Comments

Most Popular

To Top