International

स्पेशल रिपोर्ट: नवम्बर में मोदी और चीन के राष्ट्रपति शी चिन फिंग की होगी मुलाकात ?

पीएम मोदी और शी जिनपिंग
फाइल फोटो

नई दिल्ली। 20 विकसित और विकासशील देशों के संगठन जी-20 की इस साल नवम्बर में सऊदी अरब की राजधानी रियाद में होने वाली शिखर बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की चीन के राष्ट्रपति शी चिन फिंग से मुलाकात हो सकती है। यहां राजनयिक सूत्रों के मुताबिक रूस के राष्ट्रपति ने रियाद में भारत, चीन और रूस के शिखऱ नेताओं की शिखर बैठक करने की तैयारी का निर्देश दिया है।





समझा जाता है कि भारत ने रूसी राष्ट्रपति ब्लादीमिर पुतिन के इस आशय के आग्रह को मान लिया है। गौरतलब है कि रूस , भारत और चीन के बीच पिछले दशक से शिखर बैठकें बहुपक्षीय शिखर बैठकों के दौरान होती रही है। पिछले जून माह में ही भारत, रूस औऱ चीन के विदेश मंत्रियों की वर्चुअल बैठक हुई थी हालांकि इस बैठक में भाग लेने के लिये भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने झिझक दिखाई थी।

रूस विदेश मंत्रियों की बैठक की तर्ज पर तीनों देशों के रक्षा मंत्रियों की बैठक भी करवाने की पहल कर रहा है। अभी यह साफ नहीं है कि यह बैठक वर्चुअल करने का प्रस्ताव है या किसी शहर में एक साथ मौजूद रह कर। सूत्रों के मुताबिक रियाद में जी-20 की शिखर बैठक नेताओं की मौजूदगी के बीच होगी। इस दौरान यदि तीनों शिखर नेताओं की त्रिपक्षीय बैठक होगी तो बहुत मुमकिन है कि भारत औऱ चीन के शिखर नेताओं की दिवपक्षीय बैठक भी हो सकती है। दोनों शिखर नेता हर अंतरराष्ट्रीय मंच पर मिलते रहे हैं। लेकिन इस बार पूर्वी लद्दाख में चीनी सैन्य अतिक्रमण से पैदा सैन्य तनाव के बीच दिवपक्षीय बैठक के लिये दोनों पक्ष तैयार होंगे या नहीं इस बारे में साफ संकेत नहीं मिल हैं लेकिन राजनयिक हलकों मे माना जा रहा है कि यदि त्रिपक्षीय बैठक के लिये भारत औऱ चीन के शिखर नेता तैयार होंगे तो दिवपक्षीय बैठक के लिये भी दोनों नेता तैयार हो सकते हैं।

Comments

Most Popular

To Top