International

स्पेशल रिपोर्ट: SCO की बैठक में भारत ने आतंकवाद का उठाया मसला

विदेश मंत्री एस जयशंकर
फाइल फोटो

नई दिल्ली। शांघाई सहयोग संगठन के विदेश मंत्रियों की असाधारण बैठक में भारत ने आतंकवाद का मसला उठाते हुए कहा है कि शांघाई सहयोग संगठन के इलाके में आतंकवाद सुरक्षा और स्थिरता को खतरा पहुंचता है जिससे निबटने के लिये सामूहिक कार्रवाई की जरुरत है।





शांघाई सहयोग संगठन ( SCO) की बैठक वीडियो कांफ्रेंस के जरिये मौजूदा अध्यक्ष रूसी महासंघ की पहल पर बुलाई गई थी। इस बैठक को सम्बोधित करते हुए भारत की ओर से विदेश मंत्री डा. एस जयशंकर ने कहा कि आज हम जिन सुरक्षा चुनौतियों का सामना कर रहे हैं वे भौतिक ओर राजनीतिक सीमाओं से नहीं जुडी हैं। उन्होंने कहा कि आतंकवाद लगातार खतरा बना हुआ है।

इस वीडियो सम्मेलन के बाद संगठन के सदस्य देशों ने कोरोना महामारी से निबटने के लिये एक साझा बयान को मंजुर किया। इस बैठक में भारत के अलावा रूस, चीन पाकिस्तान, कजाकस्तान, किर्गिजस्तान, ताजिकिस्तान, उजबेकिस्तान, कजाकस्तान ने भाग लिया।

इस वीडियो सम्मेलन का आयोजन कोविड-19 महामारी के दुनिया भर मे फैलने के मद्देनजर किया गया था। इस बैठक में कोविड-19 की वजह से इसके सामाजिक आर्थिक और व्यापारिक असर से निबटने के लिये आपसी तालमेल पर विचार करने के लिये चर्चा की गई। विदेश मंत्री जयशंकर ने रूसी विदेश मंत्री सर्जेई लावरोव को इस बैठक के आयोजन के लिये धन्यवाद दिया। जयशंकर ने कहा कि कोरोना महामारी से निबटने के लिये आपस में सूचनाओं का आदान प्रदान और अनुभव बांटे जाने चाहिये।

Comments

Most Popular

To Top