International

स्पेशल रिपोर्ट: भारत और ऑस्ट्रेलिया का मजबूत साझेदार

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद
फाइल फोटो

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के दौर में जब सोशल डिस्टेंसिंग  का नियम बन चुका है, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पहली  बार वीडियो के जरिये वर्चुअल तरीके से ऑस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त बेरी ओ फेरेल के पद का परिचय पत्र स्वीकार किया।





उच्चायुक्त फेरेल ने इस मौके पर कहा कि भारत में ऑस्ट्रेलिया के उच्चायुक्त का दायित्व स्वीकार करने पर अत्यधिक खुशी हो रही है।  यह पद स्वाकार करने के लिये अत्यधिक सम्मानित महसूस करते हुए उच्चायुक्त ने कहा कि  उनकी नई भूमिका से भारत औऱ आस्ट्रेलिया के बीच रिश्तों को नई मजबूती देने का मौका मिलेगा।  उन्होंने उम्मीद जाहिर की कि वह अपनी नई भूमिका में दोनों देशों के लोगों के  हितों का संवर्द्धन कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि हिंद प्रशांत क्षेत्र को एक स्वतंत्र, खुला और समावेशी इलाका बनाने में  समान विचार वाले जनतांत्रिक देश होने के नाते  दोनों देशों की समान प्रतिबद्धता है।

दोनों देशों के बीच मजबूत आर्थिक व व्यापारिक, रक्षा औऱ सामरिक  रिश्तों का जिक्र करते हुए उच्चायुक्त ने कहा कि आस्ट्रेलिया में प्रवासी भारतीय  सांस्कृतिक, शैक्षणिक और  पर्यटन  सम्पर्कों को बढावा दे रहे हैं।  इससे हिंद प्रशांत इलाके में भारत आस्ट्रेलिया का सबसे मजबूत साझेदार बन चुका है।

उन्होंने कहा कि सभ्यतागत ताकत होने के नाते भारत में  होने का यह अत्यधिक  रोमांचक वक्त है। उच्चायुक्त फेरेल भूटान के राजदूत की जिम्मेदारी भी सम्भालेंगे।  आस्ट्रेलिया इंडिया काउंसिल बोर्ड के डिप्टी चेयरमैन के तौर पर उन्होंने भारत के साथ सम्बन्धों को गहरा करने में अहम भूमिका निभाई है।

Comments

Most Popular

To Top