International

Special Report: विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला यूरोप के अहम दौरे पर

विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला
फाइल फोटो

नई दिल्ली। अमेरिका के साथ टू प्लस टू की अहम सामरिक वार्ता सम्पन्न करने के बाद भारत अब यूरोपीय साझेदारों के साथ अपने रिश्तों को मजबूती देगा। इस इरादे से विदेश सचिव हर्ष श्रृंगला 29 अक्टूबर से चार नवम्बर तक तीन यूरोपीय देशों के दौरे पर रवाना होंगे। यूरोप में कोविड महामारी के फैलते जाने के बीच भारतीय विदेश सचिव का खुद यूरोप दौरा काफी अहम माना जा रहा है।





इस दौरान विदेश सचिव फ्रांस, ब्रिटेन और जर्मनी जाएंगे और अपने समकक्ष अधिकारियों के साथ आपसी रिश्तों को आगे बढाने और हिंद प्रशांत इलाके में शांति व स्थिरता के मसले पर अहम बातचीत करेंगे। गौरतलब है कि तीनों यूरोपीय देशों ने हिंद प्रशांत इलाके के चार देशों के बीच क्वाड गुट के गठन का समर्थन किया है।

चीन के साथ पूर्वी लद्दाख के सीमांत इलाकों में तनातनी में कोई कमी नहीं होने के मद्देनजर भी विदेश सचिव का यूरोपीय दौरा काफी अहम साबित होगा। इस दौरान वह तीनों बडे यूरोपीय देशों को भारत चीन के बीच रिश्तों के ताजा हालात से अवगत कराएंगे। विदेश सचिव के दौरे के बारे में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि तीनों यूरोपीय देशों के साथ भारत के साझा हित जुडे हैं। तीनों यूरोपीय देश जनतांत्रिक मुल्यों में भरोसा रखते हैं और तीनों देश चीन को एक बडी चुनौती मानते हैं।

Comments

Most Popular

To Top