International

Special Report: चीन को चुनौती के लिए ऑस्ट्रेलिया बढ़ाएगा रक्षा तैनाती

भारत और ऑस्ट्रेलिया
फाइल फोटो

नई दिल्ली। हिंद प्रशांत इलाके में चीन की बढती आक्रामकता और दुनिया पर धौंस दिखाने की उसकी रणनीति के बीच आस्ट्रेलिया ने   साल 2020 के लिये चीन को चुनौती देने वाली अपनी संशोधित समर नीति की घोषणा की है।





संशोधित समर नीति इस  सोच के तहत घोषित की गई है कि हिंद प्रशांत इलाका चीन बनाम बाकी दुनिया के बीच बढ़ती सामरिक होड़ का इलाका बनता जा रहा है। इस इलाके में  सम्प्रभुता को लेकर किये जा रहे दावों  की वजह से तनाव बढ़ता जा रहा है और इस वजह से एक दूसरे के सैन्य इरादों के समुचित आकलन को लेकर गलतफहमी पैदा होने और संघर्ष छिड़ने की आशंका तेज होती जा रही है।

चीन  द्वारा हाल में  इस इलाके में दादागिरी दिखाने के मद्देनजर जहां अमेरिका ने अपनी सेना को यूरोप से हटा कर हिंद प्रशांत इलाके में तैनात करने का ऐलान किया है वहीं ऑस्ट्रेलिया ने अपनी ताजा समर नीति में कहा है कि   इस इलाके में वह अपनी रक्षात्मक क्षमता में इजाफा करेगा। आस्ट्रेलिया की नई समर नीति का भारतीय सामरिक हलकों में स्वागत किया जाएगा।

इस इरादे से आस्ट्रेलिया अपनी रक्षा क्षमता को मजबूत करने   के लिये तय  बजट 196 अरब डॉलर से बढ़ाकर 270 अरब डालर कर देगा। जब कि आगले दस साल के लिये कुल 575 अरब डालर की राशि मुहैया कराने का ऐलान किया गया है।  इसके तहत आस्ट्रेलिया पहली बार इस इलाके में जमीनी, सागरीय और आसमान आधारित हाईपरसोनिक मिसाइलों की तैनाती करेगा ।

आस्ट्रेलिया ने अपनी संशोधित सामरिक नीति-2020 में कहा है कि हिंद प्रशांत का इलाका अस्थिर हो रहा है। इसके बीच मित्र देशों के साथ आस्ट्रेलिया के रिश्तों की अहमियत और बढ  जाएगी। समर नीति में आस्ट्रेलियाई सरकार ने उम्मीद जाहिर की है कि इस नई रक्षा तैयारी से भविष्य में संघर्षों को रोका जा सकेगा जिसके  लिये हमें तैयार   रहना होगा।

गौरतलब है कि हिंद प्रशांत इलाके में आस्ट्रेलिया और भारत महत्वपूर्ण सामरिक साझेदार बन कर उभर रहे हैं। पिछले महीने आस्ट्रेलिया और  भारत के बीच हुई शिखर वार्ता में दोनों देशों ने आपसी सामरिक रिश्तों का  दर्जा बढाकर विशेष सामरिक रिश्तों का दर्जा देने का ऐलान किया था।  इसके अलावा आस्ट्रेलिया और भारत चार देशों के चर्तुपक्षीय समूह (आस्ट्रेलिया, भारत, अमेरिका और जापान ) के अहम साझेदार हैं जिन्होंने हिंद प्रशांत इलाके में शांति व स्थिरता को सुनिश्चत करने के लिये  चीन को एकजुट हो कर आगाह किया है।  दक्षिण चीन सागर में चीन की विस्तारवादी नीतियों को चुनोती देने के लिये चर्तु पत्र समूह संयुक्त रणनीति पर विचार कर रहे हैं।

साइबर क्षेत्र में चीन के बढते हमलों से बचाव के लिये भी आस्ट्रेलिया  की समर नीति में साइबर सुरक्षा क्षमता को मजबूत करने के  लिये अगले एक दशक में 1.35 अरब डालर के निवेश की योजना  को  मेंजूरी दी है। गौरतलब है कि कोविड-19 महामारी  के दुनिया भर मे फैलने में चीन की भूमिका की आस्ट्रेलिया ने जांच की मांग की थी जिसके जवाब में चीन ने आस्ट्रेलिया को आर्थिक क्षेत्र में  दंडित करने की चेतावनी दी थी।

Comments

Most Popular

To Top