International

Special Report: अफगान शांति वार्ता शुरू, अमेरिका ने किया स्वागत

फाइल फोटो

नई दिल्ली। अफगानिस्तान में शांति बहाली के लिये शनिवार से शांति वार्ता शुरु हुई। इस शांति वार्ता में भारत, पाकिस्तान और अन्य क्षेत्रीय देशों सहित अफगानिस्तान सरकार  व तालिबान के प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं।





इसके शुरु होने का स्वागत करते हुए अमेरिका ने कहा है कि  इन वार्ताओं की शुरुआत अफ़ग़ानिस्तान के लिए चार दशकों से जारी युद्ध और रक्तपात को समाप्त करने का एक ऐतिहासिक अवसर है।

अफ़ग़ानिस्तान के लोगों ने बहुत लंबे समय तक युद्ध का भार उठाया है। वे शांति के लिए लालायित हैं। विभिन्न पक्षों के बीच केवल अफ़ग़ान-स्वामित्व और अफ़ग़ान-नेतृत्व वाली राजनीतिक प्रक्रिया – जिसमें महिलाओं तथा जातीय और धार्मिक अल्पसंख्यकों समेत तमाम अफ़ग़ान समुदायों के विचारों का सम्मान हो – के माध्यम से ही टिकाऊ शांति स्थापित हो सकती है।

इस अवसर को गंवाना नहीं चाहिए। अमेरिकाहमारे साझेदारों और अफ़ग़ानिस्तान की जनता के अपार बलिदान और निवेश ने उम्मीद की इस बेला को संभव बनाया है। मैं वार्ताकारों से इस प्रक्रिया की सफलता के लिए ज़रूरी यथार्थवादसंयम और लचीलेपन के प्रदर्शन का आग्रह करता हूं। अफ़ग़ानिस्तान की जनता और अंतरराष्ट्रीय समुदाय इस इसे क़रीब से देख रहे होंगे। अमेरिका किसी भी तरह के अनुरोध के अनुरूप सहयोग के लिए तैयार है।

अमेरिका इस मौक़े पर अफ़ग़ान सरकार और तालिबान की प्रतिबद्धता को याद करता है कि आतंकवादी अब फिर कभी अमेरिका या उसके मित्र देशों को धमकाने के लिए अफ़ग़ान भूमि का उपयोग नहीं कर सकेंगे। ये अफ़ग़ानिस्तान के लिए शांति का समय है।

Comments

Most Popular

To Top