International

हे भगवान! चीन की अपने सैनिकों के साथ कैसी सनक..

चीनी सैनिकों का 'हॉट पोटैटो' ड्रिल

नई दिल्ली। यूं तो हर सैनिक अपने देश के लिए दुश्मन से लोहा लेते वक़्त अपनी जान हथेली पर रखता है। मौत के मुंह में गोले-बारूद से ऐसे खेलता है मानो उसे उसकी परवाह ही ना हो। जंग के हालात में तो ऐसा होना वाजिब है, मगर एक देश ऐसा भी है जो अपने सैनिकों को ट्रेनिंग के दौरान ही मौत के मुंह में धकेल देता है। कई जानलेवा आर्मी ट्रेनिंग के बारे में आपने सुना होगा मगर आज जिस ट्रेनिंग ड्रिल के बारे में हम आपको बतायेंगे वो आपको हैरान कर देगी। इस ट्रेनिंग में अपने सैनिकों की जान के साथ खिलवाड़ करने वाला देश कोई और नहीं बल्कि चीन है।





जी हां, चीनी सैनिकों को ट्रेनिंग के दौरान एक ऐसी एक्सरसाइज से होकर गुजरना पड़ता है जिसे जानकर आपको यकीन नहीं आएगा। इस जानलेवा एक्सरसाइज को नाम दिया गया है ‘हॉट पोटैटो’। इस एक्सरसाइज में 6 चीनी सैनिक जमीन में खुदे एक गहरे गड्ढे के चारों ओर खड़े हो जाते है और उनके हाथ में एक पैकेट में सक्रिय ग्रेनेड थमा दिया जाता है। हर सैनिक को वो पैकेट अपनी दाईं तरफ खड़े सैनिक को थमाना होता है। और जब ये चक्र पूरा हो जाता है तो आखिरी सैनिक उस पैकेट को उसे गड्ढे में डाल देता है और ग्रेनेड के फटने से पहले सभी सैनिक ज़मीन पर लेट जाते है। इस ड्रिल में सैनिक ग्रेनेड वाले पैकेट को ऐसे आगे बढ़ाते है जैसे उन्होंने नंगे हाथों से बेहद गर्म-आलू पकड़ लिया हो। इसीलिए इस ड्रिल को ‘हॉट पोटैटो’ नाम दिया गया है।

एक सैनिक की जरा सी चूक सिर्फ उसकी ही नहीं बल्कि उसके साथियों की भी मौत की वजह बन सकती है। मगर चीनी सेना को इसकी जरा भी परवाह नहीं। अपने सैनिकों को फुर्तीला बनाने और उनके दिल से मौत का खौफ मिटाने के लिए चीन अपनी खुदगर्जी के लिए उनसे ऐसी सनक भरी ड्रिल करवाता है। अपनी सेना को मज़बूत बनाने की होड़ में चीन ये भी भूल जाता है कि वह अपने उन नागरिकों की जान खतरे में डाल देता है जो देशसेवा का भाव ले कर सेना में आते हैं।

Comments

Most Popular

To Top