International

उ. कोरिया-अमेरिका युद्ध छिड़ा तो पहले ही दिन जा सकती..

सोल। उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच जुबानी जंग अगर युद्ध में तब्दील होती है तो जान-माल का भारी नुकसान होना तय है। अमेरिकी कांग्रेस के थिंक टैंक कांग्रेसनल रिसर्च सर्विस की रिपोर्ट की मानें तो युद्ध के पहले ही दिन 3 लाख लोगों की जान जा सकती है और वह भी तब जब परमाणु हथियारों का इस्तेमाल न किया जाए। अगर परमाणु हथियारों का इस्तेमाल हुआ तो हालत क्या होगी इसका अंदाजा भी नहीं लगाया जा सकता।





गौरतलब है कि पिछले काफी दिनों से उत्तर कोरिया जब-तब न सिर्फ युद्ध बल्कि परमाणु हथियार इस्तेमाल करने की भी धमकी देता रहता है। थिंक टैंक की रिपोर्ट कहती है कि युद्ध होने की स्थिति में उत्तर कोरिया यदि पारंपरिक हथियारों का इस्तेमाल भी करता है तो भी ल़ड़ाई के पहले ही दिन 30 हजार से 3 लाख लोग युद्ध की भेंट चढ़ सकते हैं। कोरियाई प्रायद्वीप में आबादी के घनत्व और उत्तर कोरिया की फायरिंग क्षमता को ध्यान में रखकर यह रिपोर्ट तैयार की गई है।

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक कोरियाई प्रायद्वीप में आबादी का घनत्व इतना अधिक है कि युद्ध भड़कने की स्थिति में 2.5 करोड़ लोग इसकी चपेट में आ सकते हैं। एक लाख अमेरिकी भी इनमें होंगे। रिपोर्ट का आकलन है कि उत्तर कोरिया के पास जो फायरिंग क्षमता है उससे वह प्रति सेकंड दस हजार राउंड फायर कर सकता है। अगर युद्ध एक बार छिड़ गया तो चीन और रूस के भी इसमें कूदने का अंदेशा है। रिपोर्ट में इस बात का आकलन भी किया गया है कि युद्ध से अमेरिका को बेहद नुकसान होगा।

इस बीच अमेरिकी रक्षा मंत्री जेम्स मैटिस ने साफ कहा है कि उत्तर कोरिया ने अगर परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की हिम्मत की तो उसे मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा।

Comments

Most Popular

To Top