International

चीन के धमकी भरे बोल, कहा-संयम की भी सीमा होती है

सिक्किम-बॉर्डर

बीजिंग। डोकलाम विवाद पर चीन के स्वर एक बार फिर धमकी भरे हुए हैं। गरुवार रात को चीन के रक्षा मंत्रालय ने कहा कि डोकलाम पर अब तक उसका रवैया सद्भावना वाला रहा है, लेकिन संयम की भी एक सीमा होती है और अब यह खत्म होने की ओर है।





चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता रेन गुओकियांग ने एक बयान में कहा कि सद्भावना दिखाते हुए चीन अभी तक इस मामले पर कूटनीतिक चैनल से समाधान का रास्ता अख्तियार किया है लेकिन इसकी भी सीमा होती है। बयान में कहा गया है कि देर करने से डोकलाम समस्या सुलझ जायेगी, भारत को इस भ्रम से मुक्त हो जाना चाहिए। चीन ने सीमा क्षेत्र में शांति बहाली के लिए भारत को इस मामले को जल्द और सही तरीके से निपटाने को कहा है।

पिछले लगभग दो महीने में चीन ने इस तरह की भाषा का कई बार इस्तेमाल किया है। वहां का मीडिया तो इस मुद्दे पर निरंतर आग उगलता रहा है। भारत अपना रुख पहले ही स्पष्ट कर चुका है। भारत की विदेश मंत्री सुषमा स्वराज पहले ही कह चुकी हैं कि अगर डोकलाम में विवाद को शांतिपूर्वक सुलझाना है तो दोनों देशों को अपनी सेनाएं वापस बुलानी होंगी। एक दिन पहले ही गुरुवार को भी उन्होंने संसद में कहा था कि युद्ध से समस्या का समाधान होने वाला नहीं है।

Comments

Most Popular

To Top