International

चीन ने LaC पर युद्धक विमानों की तैनाती बढ़ाई

युद्धक विमान J- 11

बीजिंग। चीन अपने पश्चिमी कमान के एयर डिफेंस को और मजबूत बना रहा है। यह कमान लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (LaC) पर सुरक्षा व्यवस्था की देखभाल करता है। मीडिया रिपोर्ट में चीनी सैन्य एक्सपर्ट के हवाले से बताया गया है कि वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत से किसी भी खतरे का सामना करने के लिए ऐसा किया गया है। चीन के सरकारी अखबार ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने मंगलवार को अपनी रिपोर्ट में कहा है कि चीन ने अपने नए साल और बसंत उत्सव की छुट्टियों में पश्चिमी पठार की ऊंचाइयों पर अपने युद्धक विमानों की तैनाती बढ़ा दी है।





चीनी सेना ने हल्के और बहुआयामी युद्धक विमान J- 11 और सिंगल सीटर टविन इंजन फाइटर जेट J- 11 को तैनात किया है। हाल ही में चीन ने वायुसेना में शामिल किए युद्धक विमान J- 20 को भी पहली बार इस क्षेत्र में तैनात किया है। चीन की पश्चिमी कमान भारत से लगी सीमा के पर्वतीय क्षेत्र में तैनात रहती है। भारत और चीन के बीच LaC तिब्बती पठार समेत 3,488 किमी तक फैला है। चीन के लिए उसके पर्वतीय वायु क्षेत्र में सेक्यूरिटी महत्वपूर्ण मुद्दा है।

चीन का कहना है कि भारत के पास तीसरी पीढ़ी के युद्धक विमान हैं। इसलिए सीमा पर 3.5 पीढ़ी के जेट विमानों की तैनाती से भारत से खतरा कम हो जाएगा। बताया जाता है कि चीन ने यह कदम भारत के फ्रांस से राफेल विमानों के सौदों को देखते हुए उठाया है।

 

Comments

Most Popular

To Top