International

ट्रंप की फटकार के बाद पाकिस्तान ने कहा-‘नहीं चाहिए मदद’

पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा

इस्लामाबाद। अफगानिस्तान और दक्षिण एशिया को लेकर अमेरिका की नई नीति का ऐलान करते हुए डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान पर निशाना साधा था जिससे पाकिस्तान बौखला गया है। बुधवार को ट्रंप की लगातार फटकार के बाद पाकिस्तान का दर्द सामने आया। पाकिस्तान के सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने कहा है कि अमेरिका को हमारे साथ सम्मान से पेश आना चाहिए। बाजवा का कहना है कि पाकिस्तान अमेरिका से किसी तरह की वित्तीय मदद नहीं मांग रहा है। पाकिस्तान में अमेरिकी राजदूत डेविड हेल ने रावलपिंडी स्थित सेना मुख्यालय में बाजवा से मुलाकात की।





आतंक के खिलाफ लड़ाई में हमारा योगदान भी देखा जाए: बाजवा

जनरल बाजवा ने कहा, ‘हम अमेरिका से साजो-सामान या वित्तीय मदद नहीं मांग रहे हैं, लेकिन आतंक के खिलाफ लड़ाई में हमारा योगदान भी देखा जाना चाहिए। उन्होंने अफगानिस्तान में शांति के लिए की गई कोशिशें गिनाने पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि हमने कभी पाकिस्तान की पॉलिसी के लिए प्रशंसा नहीं चाही लेकिन आतंक के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका पाकिस्तान की अहमियत को समझे और अफगान मुद्दे को हल करने के लिए सहयोग करे।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में अफगानिस्तान और दक्षिण एशिया पर अपनी नई नीति की घोषणा करते हुए ट्रंप ने आतंकियों को पनाह देने के लिए पाकिस्तान को जमकर फटकार लगाई थी। इस नई नीति के अंतर्गत ट्रंप ने अफगानिस्तान में अधिक अमेरिकी सेना तैनात करने और भारत को भी इसमें शामिल होने का न्यौता दिया था।

ट्रंप ने सोमवार को लगाई थी लताड़

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को पाकिस्तान पर हमला करते हुए कहा था कि ‘पाकिस्तान में लोग आतंकवाद से पीड़ित हैं, लेकिन आज पाकिस्तान आतंकवादियों के लिए ‘सेफ हैवन’ भी है। अगर पाकिस्तान आतंकी संगठनों का साथ देता रहा, तो हम इस पर चुप नहीं बैठेंगे। अफगानिस्तान में हमारी कोशिशों से जुड़कर पाकिस्तान को बहुत फायदा हुआ है, अब वक्त आ गया है कि आतंकियों को खत्म करने में वह हमारी मदद जारी रखे।

Comments

Most Popular

To Top