Forces

Special Report: भारत-चीन के कमांडरों के बीच चुशुल में तीसरे दौर की बैठक

गलवान घाटी के करीब भारतीय सेना
फाइल फोटो

नई दिल्ली। पूर्वी लद्दाख के चुशुल भारतीय इलाके में भारत और चीन के सैन्य कमांडरों के बीच मंगलवार को तीसरे दौर की अहम बैठक हुई है। पहले दो दौरौं की बैठक चीन के मोलदो इलाके में हुई थी।  बैठक में पहले दो दौरों की तरह भारतीय सेना की अगुवाई लेह स्थित 14 कोर के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिंदर सिंह और चीनी सेना की अगुवाई साउथ शिन्च्यांग के कमांडर मेजर जनरल ल्यु लिन ने किया।





यहां सैन्य सूत्रों के मुताबिक भारतीय सैन्य कमांडर ने तीसरे दौर की बैठक में भी पहले दो दौरों की बैठको मे  रखी गई मांग को दुहराया कि चीनी सेना पांच मई से पहले की यथास्थिति बहाल करे। पहले दो दौर की बैठक छह और 22 जून को हुई थी।

इन बैठकों को भारतीय पक्ष ने सौहार्दपूर्ण , सकारात्मक और रचनात्मक बताया था।  यह भी कहा गया था कि दोनों पक्षों ने सेनाओं को पीछे करने पर सहमति दी थी। इस बीच इस आशय की भी रिपोर्टें हैं कि भारत और चीन के विदेश मंत्रालयों के संयुक्त सचिव स्तर की आधिकारिक स्तर की वार्ता भी सप्ताह के अंत तक होने की उम्मीद है। यह बैठक सीमा मसलों पर संयुक्त संचालन और समन्वय समिति (WMCC)  के तत्वावधान में होगी।

इस बीच हांगकांग के एक अखबार साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट ने  अपनी रिपोर्ट में कहा है कि पूर्वी लद्दाख के सीमांत इलाकों में चीनी सेना ने हलकी तोपों को तैनात करना शुरु कर दिया है।  गौरतलब है कि भारतीय सेना ने भी हाल में  अमेरिका से  हासिल अल्ट्रा लाइट होवित्जर तोपों की तैनाती कई ठिकानों पर की है। चीनी सेना  द्वारा इसके अलावा हलके वजन वाले टाइप-15 टैंकों को भी तैनात करने की भी रिपोर्टें हैं।

Comments

Most Popular

To Top