Forces

स्पेशल रिपोर्ट: लद्दाख की गलवान नदी पर भारत-चीन तनातनी बढ़ी

चीनी सैनिक
फाइल फोटो

नई दिल्ली। लद्दाख के चीन सीमा से लगे दौलत बेग ओल्डी इलाके में गलवान नदी पर भारत और चीनी सैनिकों के बीच तनातनी बढ़ रही है। चीन ने अपने अंग्रेजी दैनिक ‘ग्लोबल टाइम्स’ के जरिये  संकेत  दिया है कि इस इलाके से वह अपने सैनिक पीछे नहीं हटाएगा।





ग्लोबल टाइम्स ने कहा है कि गलवान घाटी के चीनी इलाके में भारत ने हाल में सैन्य सुविधा बढ़ाने वाले अवैध ढांचागत निर्माण किये हैं जिसका चीनी सेना ने  दृढ़ जवाब दिया है। इसके जवाब में चीन के सीमांत सैनिकों ने इस इलाके पर अपना नियंत्रण मजबूत करने के लिये जरुरी कदम उठाए हैं। ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक मई महीने के शुरु से ही भारतीय सेना गलवान घाटी में सीमा रेखा पार करती रही है  और चीनी इलाके में घुसती रही है। इस इलाके में भारतीय सेना ने रक्षा किलेबंदी की थी और चीनी सेनाओं की गतिविधियों और गश्ती की ड्यूटी में अड़चन  पैदा करने के लिये  बाधाएं खड़ी की थीं।

ग्लोबल टाइम्स ने चीनी सैन्य सूत्रों के हवाले से कहा है कि  भारतीय सेना ने जानबूझ कर चीनी सेना के साथ टकराव शुरू किया और एकपक्षीय तौर पर सीमांत इलाकों की  नियंत्रण स्थिति बदलने की कोशिश की। ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक गलवान घाटी इलाका चीनी भू-भाग है  और स्थानीय सीमा नियंत्रण स्थिति पूरी तरह साफ है। भारतीय सेना की कार्रवाई ने भारत चीन सीमा पर हुए समझौतों का हनन किया है, चीनी प्रादेशिक इलाके का उल्लंघन किया है और दोनों देशों के बीच सैन्य सम्बन्धों को नुकसान पहुंचाया है।

ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक मौजूदा माहौल के अनुरूप चीनी सेना ने घटनास्थल पर जवाब देने के लिये उपाय  मजबूत कर लिये हैं और सीमांत इलाकों पर नियंत्रण बनाए रखा है। चीनी सेना चीनी भू-भाग की दृढ़ता से रक्षा कर रही है और इलाके में शांति व स्थिरता बनाए रखने के लिये कृतसंकल्प है। चीनी सैन्य सूत्रों के मुताबिक भारत और चीन के सीमांत सैनिक बैठकों और प्रतिनिधियों के जरिये आपस में सम्पर्क बनाए रखेंगे।

Comments

Most Popular

To Top