Forces

स्पेशल रिपोर्ट: स्वर्णिम विजय वर्ष पर साइक्लोथॉन का 1971 किमी पर लोंगेवाला में समापन

स्वर्णिम विजय वर्ष पर साइक्लोथॉन

नई दिल्ली। पश्चिमी क्षेत्र के सीमावर्ती जिलों में कोणार्क कोर द्वारा आयोजित स्वर्णिम विजय वर्ष साइक्लोथॉन का  1971 किलोमीटर पूरा होने के बाद लोंगेवाला में समापन हो गया। टीम का स्वागत सेवानिवृत्त कर्नल हेम सिंह शेखावत, सेना मेडल, 10 पारा एसएफ द्वारा किया गया, जो 1971 के भारत पाक युद्ध के दौरान प्रसिद्ध चाचरो छापे का हिस्सा थे।





1971 किलोमीटर के अभियान के अंतिम चरण का नेतृत्व लेफ्टिनेंट जनरल अनिल पुरी, सेना मेडल, विशिष्ट सेवा मेडल, जनरल ऑफिसर कमांडिंग, कोणार्क कोर ने स्वयं किया। सीमावर्ती शहर में रहने वाले सेवानिवृत्त दिग्गजों की मौजूदगी में आयोजित समारोह में कोणार्क कोर की टीम का स्वागत किया गया।

साइक्लोथॉन की शुरुआत 26 नवंबर को सीमा चौकी लखपत से हुई थी। साइक्लोथॉन के संचालन के दौरान, गुजरात और राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर कई चिकित्सा शिविर आयोजित किए गए , जहां पूर्व सैनिकों और उनके परिवार के सदस्यों की चिकित्सा जांच की गई और आवश्यक दवा का प्रबंध किया गया। साइकिल चालकों ने स्थानीय आबादी के बीच कोविड-19  की जागरूकता फैलाई और सेवानिवृत्त सैनिकों के साथ व्यापक मेल मिलाप सुनिश्चित किया।

1971 के युद्ध के दिग्गजों और अन्य पूर्व सैनिकों ने लोंगेवाला में शहीदों के सम्मान में माल्यार्पण, पौधारोपण, युद्धस्थल का दौरा किया और कार्यक्रम के समापन से पहले उन्हें सम्मानित किया गया। स्वर्णिम विजय वर्ष साइक्लोथॉन 1971 के भारत-पाक युद्ध के स्वर्ण जयंती वर्ष के मौके पर एक शानदार शुरुआत साबित हुई।

Comments

Most Popular

To Top