Army

उत्तराखंड के शिवांश बने NDA परीक्षा के टॉपर, ये था कामयाबी का राज ?   

NDA यानी ‘राष्ट्रीय रक्षा अकादमी’ की प्रवेश परीक्षा और साक्षात्कार के बाद रव‌िवार को परिणाम घोषित किये गए जिनमें देश भर से चयनित 371 युवाओं में उत्तराखंड के शिवांश ने सर्वोच्च स्थान प्राप्त किया है। उत्तराखंड के रामनगर निवासी 17 वर्षीय शिवांश जोशी ने इस परीक्षा में 97 प्रतिशत अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान प्राप्त किया। खास बात यह है कि शिवांश ने यह उपलब्धि किसी कोचिंग के बल पर नहीं बल्कि अपनी मेहनत से हासिल की है।





बचपन से था आर्मी जॉइन करने का सपना

बेटे की इस कामयाबी से शिवांश के माता-पिता और परिवार के सदस्य काफी खुश हैं। शिवांश ने इसी वर्ष लिटिल स्कॉलर स्कूल से 12वीं की परीक्षा 96.8 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण की थी। उनके पिता भारतीय जीवन बीमा निगम के हल्द्वानी मंडल कार्यालय में सहायक प्रशासनिक अधिकारी हैं और माता चिल्किया प्राथमिक विद्यालय में अध्यापिका हैं। शिवांश का बचपन से ही सेना में जाने का सपना था। शिवांश के मुताबिक एनआईटी त्रिचिनापल्ली (तमिलनाडु) के लिए भी उनका चयन हुआ लेकिन वह इंडियन आर्मी जॉइन करना चाहते थे इसलिए वहां नहीं गए। फिर इस्सी वर्ष 24 अप्रैल को एनडीए की प्रवेश परीक्षा दी जिसमें सफल होने का उन्हें पूरा विश्वास था।

कड़ी मेहनत और जज्बे के दम पर मिली कामयाबी

शिवांश के मुताबिक उन्होंने इस परीक्षा के लिए किसी कोचिंग का सहारा नहीं लिया बल्कि वह तीन महीने से एनडीए की तैयारी कर रहे थे। उन्होंने इस परीक्षा की तैयारी के क्रम में अपनी अंग्रेजी और सामान्य ज्ञान को सुधारा। उनके अनुसार छात्रों का आत्मविश्वास मजबूत होना चाहिए। कड़ी मेहनत के जज्बे से किसी लक्ष्य को आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। यही नहीं उन्होंने कक्षा 12 तक मोबाइल का इस्तेमाल नहीं किया।

साक्षात्कार में पूछे गए ऐसे सवाल

शिवांश के अनुसार उनका इंटरव्यू इलाहाबाद बोर्ड में हुआ जिसमें प्रदेश की 12 विशेष चीजों के बारे में पूछा गया था। जब बोर्ड के सदस्यों को यह जानकारी हुई कि वह फुटबाल के अच्छे खिलाड़ी हैं तो उन्होंने फुटबाल के नियमों से संबंधित कई सवाल पूछे उनसे पूछे गए। इसके अलावा क्षेत्र और राज्य से भी संबंधित कई सवाल भी बोर्ड द्वारा किये गए ।

शिवांश प्रशिक्षण के लिए तीन साल पुणे रहेंगे। उसके बाद एक साल के लिए देहरादून इंडियन मिलट्री एकेडमी (आईएमए) में प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे।

Comments

Most Popular

To Top