Forces

अनंतनाग में सुरक्षाबलों ने 4 आतंकियों का किया खात्मा

भारतीय सेना

जम्मू। दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 04 आतंकियों को मार गिराया। अनंतनाग में हुई इस मुठभेड़ के बाद अनंतनाग और कुलगाम में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं। मारे गए आतंकियों की पहचान कुलगाम के सोपाट गांव के निवासी मुजफ्फर अहमद और उमर अहमद के रूप में हुई है जबकि अन्य दो की पहचान तारीगाम गांव के गुलजार अहमद और कुलगाम के तेंगबल फ्रिसल गांव के सज्जाद अहमद के रूप में हुई है।





बता दें कि जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग जिले के डियालगाम मे सुरक्षाबलों को आतंकवादियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। सूचना मिलने के फौरन बाद सुरक्षाबलों ने संयुक्त ऑपरेशन के तहत इलाके में कासो चालया। आतंकियों ने खुद को घिरा देख सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। जिसमें 04 आतंकी मारे गए हैं। मुजफ्फर, उमर और सज्जाद का संबंध लश्कर-ए-तैयबा से था जबकि गुलजार का संबंध जैश-ए-मोहम्मद से था। मुजफ्फर और गुलजार लश्कर और जैश के एरिया कमांडर थे। पूरे ऑपरेशन को एसओजी, 164 सीआरपीएफ, 40 सीआरपीएफ और 19 राष्ट्रीय राइफल ने मिलकर संयुक्त ऑपरेशन को अंजाम दिया।

उत्तरी कश्मीर के सोपोर में शनिवार को सुरक्षाबलों ने आतंकियों की मौजूदगी की सूचना पर चलाए गए कासो के दौरान एक आतंकी को गिरफ्तार किया। दक्षिणी कश्मीर के एक अन्य आतंकी की तलाश में अभियान जारी है।

सुरक्षाबलों को सोपोर के बलगाम इलाके में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिली। इस पर शनिवार शाम को 52 राष्ट्रीय राइफल्स, सीआरपीएफ तथा SOG ने इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान चलाया।

गौरतलब है कि इस दौरान सुरक्षाबलों को बारामुला के चिश्ती कॉलोनी निवासी आतंकी दानिश अहमद काकरू को गिरफ्तार करने में सफलता मिली। शुरुआती पूछताछ में पता चला कि दानिश शनिवार सुबह ही आतंकी संगठन से जुड़ा था।

Comments

Most Popular

To Top