Forces

संसद पर आज ही दिन हुआ था हमला, राष्ट्रपति-प्रधानमंत्री समेत कई लोगों ने किया शहीदों को नमन

संसद पर हमला
फाइल

नई दिल्ली। संसद भवन पर हुए हमले की आज 18वीं बरसी है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उप-राष्ट्रपति वैंकेया नायडू समेत कई गणमान्य लोगों ने इस हमले में शहीद हुए जांबाज सेनानियों को याद किया। 13 दिसंबर, 2001 को आतंकवादियों ने संसद को निशाना बनाकर देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने का षड्यंत्र रचा था। इस हमले से पूरा देश सन्न रह गया था। जांबाज सुरक्षा बलों की सर्वोच्च कर्तव्यनिष्ठा से आतंकियों को मुंह की खानी पड़ी थी।





इस हमले में 05 हथियारबंद आतंकियों ने संसद भवन पर बमों और गोलियों से हमला किया था। इस हमले में 14 लोग मारे गए थे जिसमें 05 आतंकी मारे गए थे। अलावा इसके 08 सुरक्षाकर्मी और एक माली शहीद हुए थे।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करते हुए लिखा कि साल 2001 में हुए संसद के हमले में मारे गए लोगों को सलाम करते हैं। राष्ट्रपति के अलावा केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने भी संसद में हुए हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मियों को नमन किया। उन्होंने कहा कि भारत उनकी अनुकर्णीय बहादुरी को याद रखेगा। उनकी वीरता और बलिदान हमें प्रेरित करते रहेंगे।

संसद हमले में शहीद हुए सुरक्षाकर्मी

बता दें कि साल 2001 में आज ही के दिन आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सदस्य अफजल गुरू के आतंकी साथियों ने संसद भवन पर हमला किया था। इस हमले का मास्टर माइंड अफजल गुरू था। इस हमले के बाद 15 दिसंबर को दिल्ली पुलिस ने उसे पकड़ा था। बाद में 09 फरवरी, 2013 को उसे फांसी पर लटकाया गया था और उसके शव को तिहाड़ में दफनाया गया था।

Comments

Most Popular

To Top