Navy

Special Report: आईएनएस शिवाजी को मिला राष्ट्रपति का ध्वज

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

नई दिल्ली।  तीनों सेनाओं के सुप्रीम कमांडर औऱ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने  लोनावाला स्थित नौसैनिक स्टेशन आईएऩएस शिवाजी को 13 फरवरी को राष्ट्रपति का ध्वज प्रदान किया।





किसी भी सैन्य इकाई को राष्ट्रपति का ध्वज प्रदान करना सर्वोच्च सम्मान होता है। आईएनएस शिवाजी के निशान अधिकारी ने यह सम्मान ग्रहण किया। इस मौके पर एक आकर्षक परेड का आयोजन किया गया। परेड में  130 नौसैनिक अफसरों औऱ  630 नौसैनिकों ने भाग लिया।  इसमें 150 नौसैनिकों की सलामी गारद की टीम भी शामिल थी।

इस मौके पर महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोशियारी, नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह, दक्षिणी नौसैनिक कमांड के प्रमुख वाइस एडमिरल ए के चावला,  अन्य आला नौसैनिक और नागरिक अधिकारी मौजूद थे।

आकर्षक परेड के लिये राष्ट्रपति रामनोथ कोविंद ने नौसैनिक अधिकारियों  औऱ नौसैनिकों को बधाई दी। नौसैनिक स्टेशन की स्थापना के 75 वर्षों के दौरान सेवा देने वाले पूर्व और मौजूदा नौसैनिकों को  उनकी महान सेवा और योगदान के लिये  बधाई दी। आईएनएस शिवाजी आधुनिक युग के नौसैनिक इंजीनियरों को ट्रेनिंग देता  है।  राष्ट्रपति ने आईएनएस शिवाजी के सभी नौसैनिकों को नई कामयाबी औऱ नई ऊंचाईयां हासिल करने की शुभकामनाएं दीं।

आईएनएस शिवाजी की स्थापना 1945 में हुई थी।यह भारतीय नौसेना के प्रमुख ट्रेनिंग प्रतिष्ठानों में से है। इस नौसैनिक स्टेशन पर विदशी नौसैनिकों को भी ट्रेनिंग दी जाती है। उन्हें समुद्री इंजीनियरी औऱ परमाणु, जैविक औऱ रासायनिक युद्ध माहौल में  रक्षा की ट्रेनिंग  भी दी जाती है। उन्हें नुकसान को कम करने औऱ आगजनी से बचने की भी ट्रेनिंग दी जाती है।

Comments

Most Popular

To Top