Navy

स्पेशल रिपोर्ट: भारतीय नौसेना को मिला टारपीडो डिकोय सिस्टम मरीच

स्वदेशी टारपीडो डिकोय सिस्टम

नई दिल्ली। भारतीय नौसेना को जल्द ही स्वदेशी टारपीडो डिकोय सिस्टम मरीच सौंपा जाएगा। इससे नौसेना की पनडुब्बी युद्ध क्षमता में भारी इजाफा होगा।





यहां रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक  यह अडवांस्ड टारपीडो डिकोय सिस्टम किसी भी युद्धपोत से छोड़ा जा सकेगा।  इस स्वदेशी प्रणाली मरीच का डिजाइन एवं विकास रक्षा  शोध एवं विकास संगठन (DRDO)  द्वारा किया गया है। यह सिस्टम टारपीडो को  भ्रमित करने में सक्षम होगा और इस तरह दुश्मन के टारपीडो प्रहार से बचा जा सकेगा।

सार्वजनिक क्षेत्र का रक्षा उपक्रम भारत इलेक्ट्रानिक्स  इस डिकोय सिस्टम का उत्पादन करेगा।  इस सिस्टम का प्रोटोटाइप  एक  युद्धपोत से परीक्षण करने के बाद उत्पादन शुरू करने को हरी झंडी दी गई है।  इस सिस्टम ने नौसेना की गुणवत्ता जरुरतों का पालन किया है। मरीच का स्वदेशी विकास  भारतीय नौसेना का  रक्षा शोध संगठन के साथ मिलकर स्वदेशी उत्पादन को बढ़ावा देने की एक मिसाल है। इससे सरकार की मेक इन इंडिया योजना को भारी बढावा मिला  है। इससे  अतिउन्नत तकनीक के मामले में भारत आत्मनिर्भर बन सकेगा।

Comments

Most Popular

To Top