Navy

स्पेशल रिपोर्ट: म्यांमार को पनडुब्बी देगा भारत

प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव
फोटो सौजन्य- ट्वीटर

नई दिल्ली। पड़ोसी देशों के साथ सामरिक रिश्ते मजबूत करने की बडी पहल करते हुए भारत ने म्यांमार को अपनी नौसेना के बेड़े में से एक पनडुब्बी देने का ऐलान किया है। आईएनएस सिंधुवीर नाम की यह पनडुब्बी रूसी किलो वर्ग की है जिसके बारे में भारत ने कहा है कि समुद्री क्षेत्र में सहयोग म्यांमार के साथ मेलजोल के व्यापक कार्यक्रम का एक हिस्सा है।





विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने सवालों के जवाब में इस आशय़ की खबरों की पुष्टि करते हुए कहा कि वह समझते है कि म्यांमार की नौसेना के बेड़े में यह पहली पनडुब्बी होगी। प्रवक्ता ने कहा कि यह भारत की सागर अवधारणा का हिस्सा है जिसमें भारत ने सबके सब के लिये सुरक्षा औऱ विकास सुनिश्चित करने में अपना योगदान करने की बात कही है। भारत ने प्रतिबद्धता जाहिर की है कि वह सभी पडोसी देशों में क्षमता निर्माण में सहयोग देगा और उन्हें आत्मनिर्भर बनाए।

म्यांमार को पनडुब्बी देने के प्रस्ताव पर गत एक साल से बातचीत चल रही थी। इस पनडुब्बी पर म्यांमार के नौसैनिकों को भारत पनडुब्बी संचालन का प्रशिक्षण देगा।

गौरतलब है कि एक सप्ताह पहले ही भारत के विदेश सचिव हर्ष श्रूंगला थलसेना प्रमुख जनरल मुकुंद नरवाणे के साथ म्यांमार गए थे। वहां उन्होंने म्यांमार की स्टेट काउंसेलर आंग सान सू ची और सेना प्रमुखों के अलावा अन्य सभी आला राजनीतिक और सैनिक अधिकारियों से मुलाकात की थी। इस दौरान दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग को मजबूत करने के नये कदमों और कार्यक्रमों पर मुहर लगाई गई थी।

उल्लेखनीय है कि चीन भी म्यांमार की नौसेना को एक पुरानी पनडुब्बी बेचने की कोशिश में था लेकिन म्यांमार द्वारा भारतीय पनडुब्बी लेने का फैसला म्यांमार के चीन के प्रति बदले नजरिये का परिचायक है।

Comments

Most Popular

To Top