Navy

दुश्मनों के रडार की पकड़ में ना आने वाली पनडुब्बी INS करंज, इस पनडुब्बी से जुड़ी 9 अहम बातें

मुंबई। भारत की स्कॉर्पीन श्रेणी की तीसरी पनडुब्बी आईएनएस करंज मुंबई के मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड (एमडीएल) से लॉन्च की गई। आईएनएस करंज नौसेना में शामिल किया जा चुका है। इस पनडुब्बी का निर्माण मझगांव डॉकयार्ड ने फ्रांस के सहयोग से किया है। आधुनिक तकनीक से बनी ये पनडुब्बी कम आवाज से दुश्मन के जहाज को चकमा देने में माहिर है।





इस श्रेणी की पहली पनडुब्बी आईएनएस कलवरी को तीन साल पहले लॉन्च की गई थी। वहीं दूसरी पनडुब्बी खांदेरी भी पहले ही लॉन्च की जा चुकी है, जिसका समुद्र में ट्रायल किया जा रहा है। स्कॉर्पीन सबमरीन इंडियन नेवी के लिए प्राथमिक जरूरतों में से थी। आगे पढ़िए आईएनएस करंज की खासियतों के बारे में।

क्या आप आईएनएस करंज पनडुब्बी का वजन जानते हैं-

आईएनएस करंज लॉन्च

आईएनएस करंज पनडुब्बी 67.5 मीटर लंबी, 12.3 मीटर ऊंची, 1565 टन वजनी है।

Comments

Most Popular

To Top