Forces

सेना के तीनों अंग तालमेल बढ़ाने के लिए करेंगे ज्वाइंट ट्रेनिंग, होगा रिसोर्स का ज्यादा इस्तेमाल

सेना-प्रमुख

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने पद संभालते ही तीनों सेनाओं की संयुक्तता को लेकर अपनी प्राथमिकता से अवगत कराया था। उन्होंने ट्रेनिंग से इसकी शुरुआत के संकेत भी दिए थे। जिसे देखते हुए भारतीय सेना के तीनों अंगों ने साथ मिलकर काम करने की दिशा में अहम कदम उठाया है। सशस्त्र बलों में पहली बार ज्वाइंट ट्रेनिंग के लिए मूलभूत सिद्धांतों का दस्तावेज जारी किया गया है।





तीनों सेनाओं ने मंगलवार को सेना प्रमुख कमेटी के चेयरमैन और नेवी चीफ एडमिरल सुनील लांबा ने 51 पन्नों का ज्वाइंट ट्रेनिंग का सिद्धांत पत्र जारी किया। यह तीनों सेना के अंगों में बेसिक नॉलेज का काम करेगा, जिसका फ्यूचर में और विकास किए जाने की बात कही गई है। इसमें कहा गया है कि इस दस्तावेज को तैयार कने में तीनों सेना मुख्यालयों और संबंधित पक्षों को शामिल किया गया।

सेनाओं का संयुक्त सिद्धांत इससे पहले अप्रैल में जारी किया गया था। कहा गया है कि इसका मकसद सेना के तीनों अंगों में तालमेल से कार्य क्षमता बढ़ाना और रिसोर्स का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करना है।

Comments

Most Popular

To Top