DEFENCE

अमेरिकी नौसेना ने किया वर्जीनिया-क्लास पनडुब्बियों के लिए 22 अरब का सौदा

वर्जीनिया-क्लास पनडुब्बी
फाइल फोटो

लॉस एंजेल्स से ललितमोहन बंसल

अमेरिका की नौसेना ने सोमवार को इतिहास में पहली बार 22.2 अरब डॉलर मूल्य की नौ बहुचर्चित वर्जीनिया- क्लास इलेक्ट्रिक बोट और हटिंगटन इंगलस पनडुब्बियों के लिए कांट्रैक्ट पर हस्ताक्षर कर दिए। अमेरिकी नौसेना ने दावा किया है कि ये पनडुब्बियां शत्रु के लिए सर्वाधिक घातक तो होंगी ही, उथले सागर तट पर इनकी टोह लेना भी नामुमकिन होगा। अमेरिका मौजूदा कार्यशील पनडूबियों में 71 पनडुब्बियों के साथ चीन और रूस से आगे है।





पेंटागन से जारी एक वक्तव्य में कहा गया है कि इस कांट्रैक्ट में एक 10वीं पनडुब्बी कोलंबिया- क्लास का भी प्रावधान किया गया है। इसकी क़ीमत इस कांट्रैक्ट में शामिल करें तो इनकी कुल लागत 24.1 अरब डॉलर हो जाएगी। कांट्रैक्ट के नियमानुसार साल 2025 में होगी। प्रस्तावित समझौते के अनुसार नौसेना को प्रति वर्ष दो वर्जीनिया- क्लास और एक कोलंबिया- क्लास पनडुब्बी मिल पाएगी।

अमेरिकी नौसेना सप्लाई मुखिया जेम्स गर्ट्स ने अपने कक्ष में संवाददाताओं को बताया कि एक साथ दोनों पनडुब्बियों का निर्माण सहज कार्य नहीं है। उन्होंने बताया कि कोलंबिया पनडुब्बी की एक ख़ास विशेषता होगी कि इसमें एक साथ देश के आधुनिकटम नयूक्लियर वारहेड्स एक बार नहीं, अनेक बार ले जाने की क्षमता होगी। उन्होंने कहा कि यह सौदा उनकी अन्य सभी प्राथमिकताओं में सर्वोपरि है। इनका निर्माण कार्य अगले वर्ष शुरू हो जाएगा। कोलंबिया -क्लास अगली पीढ़ी की अपने क़िस्म की एक ऐसी नई पनडुब्बी है, कि ऐसी पिछले कई दशकों में नहीं बनी है।

Comments

Most Popular

To Top