DEFENCE

स्पेशल रिपोर्ट: संयुक्त अरब अमीरात को रक्षा निवेश के लिए किया आमंत्रित

बोफोर्स तोप
फाइल फोटो

नई दिल्ली।  भारत ने संयुक्त अरब अमीरात को भारत के रक्षा सहित विभिन्न क्षेत्रों में निवेश करने के लिये आमंत्रित किया है।  भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच विदेश मंत्री स्तर की 13 वीं संयुक्त आयोग की  वर्चुअल बैठक को सम्बोधित करते हुए विदेश मंत्री एस जयशंकर ने  कहा कि संयुक्त अरब अमीरात  के लिये भारत में रक्षा, ढांचागत निर्माण, फूड पार्क, राजमार्ग, बंदरगाह, नवीकरणीय ऊर्जा जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में निवेश के व्यापक अवसर हैं जिनका लाभ संयुक्त अरब अमीरात के उद्यमी उठा सकते हैं।





इस बैठक के बारे में यहां विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि दोनों पक्षों के बीच  भारत और संयुक्त अरब अमीरात के पडोसी इलाकों के  क्षेत्रीय हालात पर चर्चा की। गौरतलब है कि खाडी में संयुक्त अरब अमीरात भारत का सबसे अहम सामरिक साझेदार है। दोनों देसों के बीच समग्र सामरिक साझेदारी का रिश्ता है।  बदलते वक्त के अनुरुप दोनों पक्षों ने नये क्षेत्रों में सहयोग का  दायरा बढाने पर सहमति दी।

गौरतलब है कि पिछले सप्ताह ही संयुक्त अरब अमीरात और इस्राइल ने आपसी राजनयिक रिश्तों की बहाली का दूरगामी महत्व का  समझौता किया था। भारत ने इस समझौते का स्वागत किया था।

वर्चुअल बैठक में संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायेद अल नाह्यान ने कहाकि संयुक्त अरब अमीरात के विकास में भारतीय प्रवासी कामगारों का विशेष योगदान है। प्रवक्ता ने कहा कि बैठक में दोस्ताना और सहयोगपूर्ण माहौल में व्यापक मसलों पर विचारों का आदान प्रदान हुआ।  गौरतलब है कि इस्लामी देशों के संगठन में पाकिस्तान की आपत्तियों को दरकिनार  करते हुए पिछले साल के शुरु में  संगठन के विदेश मंत्रियों की बैठक मे भारतीय विदेश मंत्री को आमंत्रित किया था।

Comments

Most Popular

To Top