DEFENCE

स्पेशल रिपोर्ट: भारत-चीन के आला मंत्रियों की होगी मुलाकात

पीएम मोदी और चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग
फाइल फोटो

नई दिल्ली। भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख के सीमांत इलांकों में चल रही  सैन्य तनातनी के बीच अगले कुछ दिनों के भीतर भारत औऱ चीन के रक्षा व विदेश मंत्रियों की मास्को में हो सकती है मुलाकात। मास्को में शांघाई सहयोग संगठन (SCO)  के रक्षा मंत्रियों की आगामी चार और पांच सितम्बर को और फिर  विदेश मंत्रियों की आगामी  दस सितम्बर को बैठक होने वाली है।





 इन दोनों बैठकों में  भाग लेने भारतीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह औऱ फिर विदेश मंत्री एस जयशंकर मास्को जा रहे हैं।  चूंकि भारत और चीन दोनों शांघाई सहयोग संगठन के सदस्य हैं इसलिये चीन के रक्षा और विदेश मंत्री भी वहां पहुंचेंगे। यहां राजनयिक सूत्रों ने बताया कि इस बैठक के दौरान रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की चीन के रक्षा मंत्री से मुलाकात की सम्भावना है। इसके बाद दस सितम्बर को विदेश मंत्री जयशंकर की चीन के विदेश मंत्री वांग ई  से मुलाकात होगी।

इन दोनों बैठकों के दौरान भारत औऱ चीन के रिश्तों की दिशा तय होगी। यदि चीन इन बैठकों के उपरांत पूर्वी लद्दाख  में  पांच मई के पहले की यथास्थिति बहाल करने का वादा करता है तो पूर्वी लद्दाख में सैन्य तनातनी खत्म हो सकती है। गौरतलब है कि सेंट पीटर्सबर्ग में आगामी अक्टूबर में शांघाई सहयोग संगठन की शिखर बैठक भी होने वाली है जिसमें भाग लेने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जाना है। वहां चीन के राष्ट्रपति शी चिन फिंग भी होंगे। इसलिये देखना होगा कि दोनों शिखर नेताओं की दिवपक्षीय मुलाकात होती है या नहीं। माना जा रहा है कि दोनों देशों के विदेश और रक्षा मंत्रियों की  मुलाकातों के दौरान भारत चीन शिखर मुलाकात की जमीन तैयार की जाएगी।

Comments

Most Popular

To Top