DEFENCE

स्पेशल रिपोर्ट: कोरोना जांच के लिए मोबाइल प्रयोगशाला

राजनाथ सिंह
फाइल फोटो

नई दिल्ली। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने यहां रक्षा शोध एवं विकास संगठन (DRDO)  द्वारा विकसित मोबाइल विषाणु शोध एवं जांच प्रयोगशाला (MVRDL) का वीडियो लिंक द्वारा उद्घाटन किया।





यह प्रयोगशाला हैदराबाद के ESIC अस्पताल और प्राइवेट उद्योग के सहयोग से विकसित की गई है। इस अवसर पर रक्षा मंत्री ने कहा कि प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश ने वक़्त पर ही कई कदम उठाए जिससे आज भारत में दूसरे देशों के मुकाबले हालत कहीं बेहतर है। इस जैव सुरक्षा प्रयोगशाला को रेकॉर्ड 15 दिनों में विकसित करने के लिए रक्षा मंत्री ने रक्षा वैज्ञानिकों के योगदान की सराहना की। उन्होंने कहा कि यह प्रयोगशाला लेवल 02 और लेवल 03 के स्तर का है जिससे एक दिन में एक हजार से भी अधिककोरों ना की जांच की जा सकेगी।इस क्षमता की वज़ह सेकोविदके खिलाफ अभियान में तेजी लायी जा सकेगी।

यह मोबाइल प्रयोगशाला मिसाइल बनाने वाली DRDO की प्रयोगशाला रिसर्च सेंटर इमारत द्वारा विकसित की गई है।

उन्होंने कहा कि हमारी सशस्त्र सेनाओं ने क्वॉरंटाइन सेंटर और अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं की स्थापना कर कोरों ना के खिलाफ लड़ाई में अहम योगदान दिया है। इसके अलावा सेना ने दूसरे देशों से भारतीय नागरिकों को स्वदेश लाने में भी उल्लेखनीय सहयोग दिया।

यह प्रयोगशाला विश्व स्वास्थ्य संगठन और भारतीय चिकित्सा शोध पारिषद के मानकोके अनुरूप बनाई गई है। इसे देश में जरूरत के मुताबिक कहीं भी तैनात किया जा सकता है।

Comments

Most Popular

To Top