DEFENCE

Special Report: गणतंत्र दिवस पर भारत दिखाएगा अपनी सैन्य ताकत

गणतंत्र दिवस परेड
फाइल फोटो

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस परेड के दौरान भारतीय सेनाएं अपनी रक्षात्मक और हमलावर ताकत दिखाने के लिये पूरी तरह तैयार और सज चुकी हैं। इस दौरान भारत की सैनिक ताकत के अलावा भारत की सांस्कृतिक विभिन्नता और सामाजिक और आर्थिक विकास की झांकी पेश की जाएगी।





इस दौरान डीआरडीओ द्वारा विकिसत एंटी सेटेलाइट मिसाइल, भीष्म मुख्य युद्धक टैंक, इनफेन्ट्री कम्बैट ह्वीकल्स, चिनूक और अपाचे हेलिकॉप्टर, आकाश और अस्त्र मिसाइलों के अलावा नौसेना की ताकत दुनिया के सामने पेश की जाएगी।

90 मिनट तक चलने वाली इस परेड के दौरान राज्यों, केन्द्र शासित प्रदेशों और विभिन्न मंत्रालयों की 22 झांकियां दिखाई जाएंगी। इसके अलावा स्कूली बच्चों के जरिये नृत्य और संगीत के जरिये भारतीय प्राचीन सांस्कृतिक परम्परा योग और आध्यात्मिक मूल्यों को दिखाया जाएगा।

इस साल की परेड के मौके पर मुख्य अतिथि के तौर पर ब्राजील के राष्ट्रपति जैर मेसियास बोलसेनारो मौजूद रहेंगे जब कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद परेड की सलामी लेंगे।

गौरतलब है कि ब्राजील और भारत के रिश्ते सौहार्दूपूर्ण रहे हैं और दोनों देशों के बीच पिछले एक दशक के दौरान गहरे रक्षा ताल्लुकात भी विकसित हुए हैं।

गणतंत्र दिवस समारोहों की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर देश के लिये शहीद होने वालों के लिये श्रद्धासुमन अर्पित करने के साथ होगी। यह पहला मौका होगा कि प्रधानमंत्री मोदी राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर 26 जनवरी की सुबह जाएंगे। इसके पहले प्रधानमंत्री इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति पर जाते रहे हैं। नेशनल वार मेमोरियल पर प्रधानमंत्री के अलावा रक्षा मंत्री और भारत के पहले प्रधानसेनापति और तीनों सेनाओं के प्रमुख भी श्रद्धासुमन अर्पित करने जाएंगे। इसके बाद सभी हस्तियां गणतंत्र दिवस परेड के आयोजन स्थल राजपथ पर पहुंचेंगे।

Comments

Most Popular

To Top