DEFENCE

स्पेशल रिपोर्ट: DRDO दिखाएगा स्वदेशी रक्षा तकनीक

DRDO

नई दिल्ली। लखनऊ में 05 से 09 फरवरी तक आयोजित हो रही रक्षा प्रदर्शनी डेफ एक्सपो के दौरान रक्षा शोध एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) अपनी प्रयोगशालाओं में विकसित स्वदेशी रक्षा तकनीक औऱ प्रणालियों की नुमाइश करेगा। डीआरड़ीओ के एक अधिकारी के मुताबिक प्रदर्शनी के दौरान 500 से अधिक तकनीकी उत्पाद डीआरडीओ द्वारा दिखाए जाएंगे।





पांच दिनों तक चलने वाली रक्षा प्रदर्शनी में अलग से इंडिया पेवेलियन बनाया गया है। इसमें डीआरडीओ के अलावा रक्षा क्षेत्र के भारतीय सार्वजनिक और प्राइवेट रक्षा कारखानों के अग्रणी उत्पाद पेश किये जाएंगे।

गौरतलब है कि डीआरडीओ ने भारत को कई तरह की बैलिस्टिक और ऱक्षात्मक मिसाइलें दी हैं। इनमें अग्नि मिसाइलों से लेकर समुद्र से छोड़ी जाने वाली के- 4 सी लांच्ड बैलिस्टिक मिसाइल है।

इस दौरान डीआरडीओ द्वारा अडवांस्ड टोड आर्टिलरी गन सिस्टम (एटीएजीएस) का जीवंत संचालन दिखाया जाएगा। इसके अलावा मेन बैटल टैंक अर्जुन मार्क-1ए , ह्वील्ड आर्मर्ड प्लैटफार्म, काउंटर माइन फ्लेल, माडुलर ब्रिज आदि शामिल हैं।

डेफ एक्सपो- 2020 के दौरान डीआरडीओ द्वारा रक्षा सेनाओं का डिजिटल बदलाव का अलग से प्रदर्शन होगा जिसमें कुल 23 उत्पाद रखे जाएंगे।

Comments

Most Popular

To Top