DEFENCE

Special Report: डीआरडीओ ने किया टैंक नाशक मिसाइल का सफल परीक्षण

स्वदेशी टैंक नाशक लेजर निर्देशित मिसाइल

नई दिल्ली। रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) द्वारा विकसित स्वदेशी टैंक नाशक लेजर निर्देशित मिसाइल (ATGM) का पहले किये गए परीक्षण से अधिक मारक दूरी पर किया गया। इस दौरान मिसाइल ने लक्ष्य को पूरी तरह ध्वस्त कर दिया। यह परीक्षण अहमदनगर के केके रेंज से किया गया। इस परीक्षण को मुख्य युद्धक टैंक अर्जुन से किया गया।





रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक इस टैक नाशक मिसाइल में टेंडेम हीट वारहेड का इस्तेमाल किया गया जो दुश्मन के टैंक के एक्सप्लोसिव रिएक्टिव आरमर को भेदने में कामयाब हुआ । यह परीक्षण एक से 1.5 किलोमीटर की दूरी पर किया गया। इस मिसाइल का पहला सफल परीक्षण गत 22 सितम्बर को किया गया था।

इस मिसाइल को कई तरह के हथियार मंचों से छोडा जा सकता है। फिलहाल इसका परीक्षण अर्जुन टैंक के 120 मिलीमीटर के फील्ड गन से किया गया। इस लेजर गाइडेड मिसाइल का विकास आर्मानेंट आऱ एंड डी इसटैबलिशमेंट (ARDE) द्वारा किया गया है। इस मिसाइल के विकास में हाई इनर्जी मेटीरियल रिसर्च लेबोरेटरी (HEMRL) योगदान दिया है। देहरादून स्थित इंस्ट्रूमेंट रिसर्च एंड डेवलपमेंट इसटैबलिशमेंट (IRDE) द्वारा भी इसमें सहयोग दिया गया है।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस लेजर गाइडेड मिसाइल के सफल परीक्षण पर वैज्ञानिकों को बधाई दी है।

Comments

Most Popular

To Top