DEFENCE

Special Report: सड़क बनाने को लेकर चीन से हुआ विवाद

बीआरओ
फाइल फोटो

नई दिल्ली। उत्तरी लद्दाख में पेंगोग झील के निकट एक सड़क बनाने को लेकर गत 09 मई को विवाद शुरू हुआ था जिसकी वजह से दोनों देशों के सैनिक आमने-सामने हो गए हैं और दोनों ओर से सैन्य तैनाती बढ़ती जा रही है।





गौरतलब है कि चीन ने 3,488 किलोमीटर लम्बी एलएसी पर गत एक महीने से आक्रामक रवैया अपनाया हुआ है। गत सोमवार को ही चीन के दैनिक ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने लद्दाख के दौलत बेग ओल्डी इलाके की गालवान नदी को लेकर भारत को कड़ी चेतावनी जारी की है।

यहां सैन्य सूत्रों का कहना है कि चूंकि चीन ने पेंगोंग झील के अपने इलाके में सड़क बनाई थी इसलिये भारतीय सेना ने भी अपनी सेना की आवाजाही को सुगम बनाने के लिये सड़क बनाने का काम शुरु किया जिस पर चीन ने एतराज करते हुए उसे रुकवा दिया है। इस वजह से भारतीय सेना ने वहां अपने और सैनिक भेजे । चीन ने भी वहां और सैनिकों को पीछे के इलाके में तैनात कर दिया है। गौरतलब है कि गत नौ मई को इसी सड़क को लेकर दोनों देश के सैनिकों की आपस में हिंसक भिडंत हुई थी। इससे दोनों ओर के सैनिक घायल हो गए थे।

सैन्य सूत्रों ने बताया कि चूंकि इस इलाके में भारत ने सड़क बनाने का काम रोक दिया है इसलिये शांति बनी हुई है लेकिन इस इलाके में तनाव की स्थिति बरकरार है।

सैन्य सूत्रों का कहना है कि जिस तरह चीनी पक्ष ने अपने इलाके में सडक बना ली उसी तरह भारतीय सेना का भी हक है कि वह अपने इलाके में सडक बनाए।  सूत्रों का कहना है कि हाल के सालों में चूंकि भारत ने सीमांत इलाकों में ढांचागत  निर्माण का काम तेज किया है इसलिये इन्हें लेकर आने वाले दिनों में चीन के साथ विवाद  और उग्र  हो सकता है।

Most Popular

To Top