DEFENCE

स्पेशल रिपोर्ट: 22,800 करोड़ की रक्षा खरीद को मिली मंजूरी

P8- I समुद्र टोही विमान

नई दिल्ली। रक्षा मंत्रालय की रक्षा खरीद परिषद (डीएसी) ने तीनों सेनाओं के लिये 22,800 करोड़ रुपये की विभिन्न शस्त्र प्रणालियों को मंजूरी दी है।





रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में यहां हुई बैठक में वायुसेना के लिये एक अतिरिक्त अवाक्स विमान के अलावा अमेरिकी बोईंग कम्पनी से अतिरिक्त P8- I समुद्र टोही विमान खरीदने को भी मंजूरी दी है।

रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि अवाक्स विमान की प्रणालियों का स्वदेशी विकास रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन( डीआरडीओ)की विभिन्न यूनिटों द्वारा किया जाएगा। गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना के पास तीन अवाक्स विमान इज्राइल औऱ रूस के संयुक्त सहयोग से पिछले दशक के दौरान हासिल किये गए थे। इसके बाद ब्राजील के तीन एम्ब्रेयर टोही विमानों पर स्वदेशी रेडार औऱ एवियानिक्स प्रणालियों का विकास औऱ तैनाती कर स्वदेशी टोही विमानों का विकास हो चुका है।

नौसेना के लिये पी-8- आई टोही विमान हासिल करने के फैसले से नौसेना की समुद्र टोही क्षमता में उल्लेखनीय बढोतरी होगी। नौसेना के पास पहले से ही आठ समुद् टोही विमानों की सप्लाई बोईंग कम्पनी ने की है।

इसके अलावा डीएसी ने भारतीय कोस्ट गार्ड के लिये दो ईंजनों वाले हेवी हेलीकाप्टरों की खरीद को भी मंजूरी दी है। इन हेलीकाप्टरों के जरिये कोस्ट गार्ड भारतीय समुद्री इलाके में समुद्री आतंकवादी गतिविधियों औऱ घुसपैठ जैसी वारदातों से निबट सकेगा।

Comments

Most Popular

To Top