DEFENCE

सेना को भेजा गया प्रतिबंधित गोला-बारूद, कैग का खुलासा

गोला-बारूद
फोटो सौजन्य- गूगल

नई दिल्ली। भारत के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक (CAG) ने लोकसभा में पेश अपनी रिपोर्ट में कहा है कि भारतीय सेना को ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड (OFB) से प्रतिबंधित विमान भेदी गोला-बारूद भेजे गए। बता दें कि अगस्त, 2015 की घटना का जिक्र करते हुए बताया गया कि इन गोला-बारूद की कीमत 39 करोड़ रुपये थी।





नियंत्रक और महालेखा परीक्षक (कैग) ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि नवंबर, 2014 में गोपालपुर फायरिंग रेंज में ‘k’ गोला-बारूद के कारण एक हादसा हुआ था। उस समय सेना मुख्यालय ने ऑर्डिनेंस फैक्ट्री बोर्ड को कहा था कि वह दिसंबर, 2014 के बाद से इन गोला-बारूद का उत्पादन बंद कर दे। लेकिन यह प्रतिबंध सितंबर, 2015 में हटा लिया गया था।

कैग रिपोर्ट में बताया गया है कि प्रतिबंध की अवधि में सेना को इन  विस्फोटकों की आपूर्ति की गई जबकि सेना मुख्यालय उसकी समीक्षा कर रहा था। कैग का कहना है कि अगर आपूर्ति हो भी गई थी तो उस गोला-बारूद को यूजर यूनिट में नहीं भेजना चाहिए था।

Comments

Most Popular

To Top