DEFENCE

चीन ने अपने तंबू और झंडा हटाए, बुलडोजर भी ले गये

चीनी सैनिक

नई दिल्ली। डोकलाम में भारत और चीन ने गतिरोध वाली जगह से अपने सैनिकों को हटा लिया है। पिछले लगभग ढाई महीने से जहां दोनों देशों के सैनिक आमने-सामने खड़े थे, वहां से सैनिकों के हटने की प्रक्रिया लगभग पूरी हो गई है। मीडिया में चल रही खबरों के मुताबिक चीन के सैनिक अपने बुलडोजर के साथ अपने देश की सीमा में लौट गए हैं।





लगभग ढाई महीने से 1,700-1,800 के करीब चीनी सैनिक इस इलाके में जमे हुए थे। वे वहां सड़क बनाने की फिराक में थे। खबरों के मुताबिक वे अब वहां से अपने बुलडोजर और टैंट उखाड़कर चले गए हैं। चीनी झंडे को भी हटा लिया गया जो वहां फहराया गया था। कुछ सौ की संख्या में तैनात भारतीय सैनिक भी वापस लौट आए हैं। अब उस इलाके में न तो चीन की और न भारत की सेना तैनात नहीं है।

दोनों देशों की सेनाओं के पीछे हटने के फैसले को भारत की कूटनीतिक जीत के तौर पर देखा जा रहा है। चीन ने बीते ढाई महीने में इस मुद्दे पर लगातार आक्रामक रुख दिखाया। चीन के मीडिया ने तो खूब आग उगली। लगातार युद्ध की धमकी देने की कोशिश की लेकिन उसका कोई भी हथकंडा काम नहीं आया। दूसरी तरफ भारत का रवैया संयमभरा लेकिन दृढ़ रहा। भारत ने इस मुद्दे को बातचीत के जरिए शांतिपूर्ण ढंग से सुलझाने की बात कही। चीन इस पर अड़ा हुआ था कि भारत अपनी सेना हटाए तभी बात होगी जबकि भारत का लगातार यह रुख रहा कि पहले दोनों देश अपनी सेनाएं पीछे हटाएं तभी बातचीत संभव है। इस मसले को लेकर अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर चीन की खूब किरकिरी हुई।

 

Comments

Most Popular

To Top