DEFENCE

चीन की सीमा पर और अधिक तैनाती होगी भारतीय सैनिकों की

भारतीय सेना के जवान

नई दिल्ली। चीन के साथ लगातार जारी सीमा विवाद की ‘चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी’ ने समीक्षा की। कमेटी ने समीक्षा के बाद अरुणाचल प्रदेश के साथ सटी सीमा पर और अधिक जवान तैनात किए जाएंगे। इसमें तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने विवाद की गंभीरता को समझा।





जानकारों के मुताबिक डोकलाम में चल रहे सीमा विवाद के साथ लद्दाख में चीनी सैनिकों की घुसपैठ पर सेना प्रमुखों ने विचार किया। देश के समक्ष मंडरा रहे बाहरी खतरों पर इस बैठक में चर्चा की गई। जैसा कि हम जानते है कि डोकलाम में चीन व भारत की सेनाएं एक-दूसरे के सामने खड़ी हैं और लद्दाख में मंगलवार को चीनी सैनिकों ने भारत में घुसपैठ की कोशिश की थी। जबकि सीमा रक्षकों ने चीनी सैनिकों को पीछे धकेल दिया लेकिन तीनों सेना प्रमुखों ने माना कि ये गंभीर मुद्दा है।

सेना प्रमुख लद्दाख का करेंगे दौरा

लद्दाख में चीनी घुसपैठ की कोशिश को देखते हुए आर्मी चीफ बिपिन रावत ने वहां जाने का फैसला किया है। वह रविवार को लद्दाख रवाना होंगे और इस दौरान वरिष्ठ अधिकारियों के साथ दौरा कर वहां की स्थिति का जायजा लेंगे।

केंद्रीय गृह राज्य मंत्री किरण रिजिजु ने कहा, चीन की मीडिया वही बात कहती है जिसके लिए सरकार अनुमति देती है लेकिन भारत में समाचार माध्यम पूरी तरह से स्वतंत्र हैं।

जल्द होगी भारत-चीन फ्लैग मीटिंग

भारत व चीन जल्द फ्लैग मीटिंग कर सकते हैं। हालांकि इसकी तिथि तय नहीं हुई है लेकिन यह होगी। एक ऑफिसर का कहना है कि पिछले शुक्रवार को दोनों देशों के वरिष्ठ ऑफिसरों के बीच मीटिंग हुई थी, लेकिन मीटिंग कामयाब नहीं रही।

Comments

Most Popular

To Top